Thursday , March 30 2017
Home / Entertainment / मौत से पहले अपने बेटे से मिलना चाहते थे ओम पुरी : प्रड्यूसर खालिद किदवई

मौत से पहले अपने बेटे से मिलना चाहते थे ओम पुरी : प्रड्यूसर खालिद किदवई

मुंबई : बॉलिवुड के दिग्गज कलाकार ओम पुरी की मौत के बाद नई बातें सामने आ रही हैं। ओशिवारा पुलिस के सामने यह खुलासा हुआ है कि ओम पुरी मरने से पहले उस रात अपने बेटे से मिलना चाहते थे। पुलिस को यह बयान प्रड्यूसर खालिद किदवई ने दिया है जिनका दावा है कि ओम पुरी की मौत से कुछ घंटे पहले तक वह उनके साथ थे।

इस बयान में कहा गया है, ‘गुरुवार शाम को ओम पुरी अपने बेटे ईशान से मिलना चाहते थे। इसलिए हम त्रिशूल बिल्डिंग गए जहां उनकी पूर्व पत्नी नंदिता और ईशान रहते हैं। लेकिन वह ईशान से नहीं मिल सके क्योंकि नंदिता और ईशान एक पार्टी में बाहर गए हुए थे। उसके बाद ओम पुरी की नंदिता के साथ फोन पर बहस भी हुई थी और उन्होंने नंदिता को जल्दी वापस आने को कहा क्योंकि वह अपने बेटे से मिलना चाहते थे।’

किदवई ने बयान में बताया, ‘इसके बाद उन्होंने नंदिता के फ्लैट के बाहर लगभग 45 मिनट तक इंतजार किया लेकिन जब वह दोनों नहीं आए तो ओम पुरी ने कार में ही शराब पीनी शुरू कर दी। शराब खत्म होने के बाद हम वहां से चले गए।’ बता दें कि 16 साल के ईशान स्पेशल चाइल्ड हैं और ओम पुरी के काफी नजदीक हैं।

हमारे सहयोगी अखबार मुंबई मिरर को रामभजन जिंदाबाद फिल्म के प्रड्यूसर किदवई ने बताया, ‘मैंने दो बार पुलिस को अपना बयान दिया है। मैंने पुलिस को यह भी बताया है कि ओम पुरी अपने बेटे से मिलना चाहते थे लेकिन नहीं मिल सके।’ ओशिवारा पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘जैसा कि खालिद ने बताया कि वह ओम पुरी के साथ उस दिन दोपहर से थे इसलिए हमने उनका बयान लिया। अब हम इस जानकारी को नंदिता को बयान से मिलाएंगे तभी किसी नतीजे तक पहुंच पाएंगे।’

ओम पुरी के नजदीकी सूत्रों के मुताबिक, ओम पुरी अमेरिका में बसने की प्लानिंग कर रहे थे ताकि ईशान को वहां बेहतर इलाज मिल सके। इसके लिए पुरी अमेरिका और भारत में कुछ लोगों से चर्चा भी कर रहे थे। पुरी के एक मित्र ने बताया कि ईशान के इलाज के लिए ओम पुरी बहुत गंभीर थे।

वहीं, मुंबई पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘हमें शक है कि पुरी की मौत हार्ट अटैक से हुई है, हालांकि विसरा रिपोर्ट से यह कन्फर्म हो जाएगा। संभव है कि दिल का दौरा पड़ने के बाद वह जमीन पर गिर गए हों जिसके कारण उनके सिर में गंभीर चोट लगी। वह घर में अकेले थे और घर में किसी के घुसने के कोई निशान नहीं हैं। इसलिए हमें किसी उनकी मौत में कोई साजिश नहीं दिखाई देती।’

Top Stories

TOPPOPULARRECENT