Monday , October 23 2017
Home / Khaas Khabar / मौलाना अंज़र शाह को दिल्ली अदालत में पेश किया गया

मौलाना अंज़र शाह को दिल्ली अदालत में पेश किया गया

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल की टीम ने बंग्लूरू में मौलाना अंज़र शाह को दिल्ली मुंतक़िल करने के बाद मुक़ामी अदालत में पेश किया गया जिस पर उन्हें 20 जनवरी तक पुलिस तहवील में दे दिया गया। दिसम्बर में दिल्ली पुलिस ने बर्र-ए-सग़ीर हिंद में सरगर्म अलक़ायदा के 3 कारकुनों को गिरफ़्तार कर लिया था सबसे पहले 41 साला मुहम्मद आसिफ़ को गिरफ़्तार कर लिया गया जोकि अलक़ायदा में नौजवानों की भर्ती और तर्बीयत का मुहर्रिक था।

बंग्लूरू में मुनाक़िदा एक मज़हबी इजतिमा में मौलाना अंज़र शाह ने मुहम्मद आसिफ़ से मुलाक़ात की थी जहां पर अबदुर्रहमान और ज़फ़र मसऊद का तआरुफ़ करवाया गया। इस मौक़े पर मौलाना से कहा गया था कि ज़रूरत पड़ने पर नौजवानों की भर्ती और तर्बीयत के लिए तआवुन करें।

दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल को मौलाना अंज़र शाह और अबदुर्रहमान । ज़फ़र मसऊद के दरमियान राबिता का सबूत हाथ लगा है जिन्होंने इंटरनेट टेलीफ़ोन पर आपस में बातचीत की थी। शाह और मसऊद के दरमियान रुकमी लेन-देन का भी पता चलाया गया है। सरकारी ज़राए ने बताया कि मज़ीद मुश्तबा अफ़राद पर पुलिस की निगरानी है और बहुत जल्द उनकी गिरफ्तारियां मुम्किन हैं।

सितम्बर 2014 में अफ़्ग़ान । पाक सरहद पर नामालूम मुक़ाम पर एक इजलास में अलक़ायदा सरबराह एमन अलज़्वाहरी ने बर्र-ए-सग़ीर हिंद के लिए अलाहदा शाख़ का क़ियाम अमल में लाया है जिसे AQIS का नाम दिया गया है। मज़कूरा इजलास में हिन्दुस्तान से मौलाना आसीम उमर उर्फ़ सिंह-ए-उल-हक़ और मुहम्मद आसिफ़ ने नुमाइंदगी की थी।

बर्र-ए-सग़ीर हिंद की शाख़ के सदर की हैसियत से उमर के तक़र्रुर के बाद कई एक अस्करीयत पसंद बिशमोल इंडियन मुजाहिदीन के सरबराह रियाज़ भटकल ने मुलाक़ात की थी जोकि हुनूज़ मफ़रूर है। एक और सीनियर इंडियन मुजाहिदीन के कमांडर बाबा साजिद हाल ही में शाम में लड़ते हुए मारा गया था।

उमर ने सोश्यल मीडिया पर आसिफ़ से राबिता क़ायम किया था जिसने ज़ियारत वीज़ा पर तहरान का दौरा किया था। पुलिस ने बताया कि उमर, आसिफ़ और क़ासिम उत्तरप्रदेश में सँभल के मुतवत्तिन हैं।

TOPPOPULARRECENT