Monday , September 25 2017
Home / Crime / मौलाना आज़ाद रैगिंग मामला: पोर्न देखने को मजबूर करते हैं सीनियर स्टूडेंट्स।

मौलाना आज़ाद रैगिंग मामला: पोर्न देखने को मजबूर करते हैं सीनियर स्टूडेंट्स।

भोपाल: नेशनल एंटी रैगिंग सेल के हेल्पलाइन नंबर पर पिछली रात आई एक कॉल ने एक ऐसा खुलासा किया जिससे साफ़ होता है की देश में रैगिंग के लिए बने कड़े क़ानून के बावजूद भी कुछ लोग ऐसे हैं जो अपनी हरकतों से बाज़ नहीं आ रहे हैं। रैगिंग सेल के मुताबिक उन्हें मिली कॉल भोपाल के मौलाना आज़ाद नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी से आई थी जिसमें जूनियर स्टूडेंट्स ने कॉल करके बताया कि उन्हें बी-टेक सेकंड और थर्ड ईयर के सीनियर स्टूडेंट रैगिंग के नाम पर पोर्न देखने के लिए मजबूर करते हैं। कॉल करने वाले स्टूडेंट्स ने अपने सीनियर स्टूडेंट्स के नाम भी हेल्पलाइन सेल को बताये

इस कॉल के बाद एंटी रैगिंग सेल के अधिकारिओं ने तुरंत कॉलेज एडमिनिस्ट्रेशन को कॉल कर इस बात से आगाह करवाया जिसके बाद कॉलेज ने इन स्टूडेंट्स को तलब किया।

हमें मिली जानकारी के अनुसार यह पाँचों स्टूडेंट्स जिनके खिलाफ शिकायत दर्ज की गयी है आंध्रा प्रदेश के रहने वाले हैं। शिकायत में यह भी कहा गया है कि रोजाना रैगिंग की इस हरकत जूनियर स्टूडेंट्स काफी डिप्रेशन में हैं।

TOPPOPULARRECENT