Thursday , October 19 2017
Home / Khaas Khabar / म्यांमार ऑप्रेशन के बाद जंगजूयाना बयानबाज़ी पर शदीद तन्क़ीद

म्यांमार ऑप्रेशन के बाद जंगजूयाना बयानबाज़ी पर शदीद तन्क़ीद

नई दिल्ली: मुमताज़ दानिश्वरों के ग्रुप ने म्यांमार में फ़ौजी ऑप्रेशन के तनाज़ुर में हुकूमत और बी जे पी के आला सतह के नुमाइंदों की जानिब से जंग जू एहसासात के बला सोंचे समझे इज़हार पर गहिरी तशवीश ज़ाहिर की है और हुकूमत-ओ-बरसर‍-ए‍-इक़्तेदा

नई दिल्ली: मुमताज़ दानिश्वरों के ग्रुप ने म्यांमार में फ़ौजी ऑप्रेशन के तनाज़ुर में हुकूमत और बी जे पी के आला सतह के नुमाइंदों की जानिब से जंग जू एहसासात के बला सोंचे समझे इज़हार पर गहिरी तशवीश ज़ाहिर की है और हुकूमत-ओ-बरसर‍-ए‍-इक़्तेदार पार्टी से ऐसे लोगों से लाताल्लुक़ी इख़तियार कर लेने पर ज़ोर दिया।

उन्होंने हुकूमत से ये अपील भी की कि पाकिस्तान के साथ मुज़ाकरात के अहया के लिए दस्तयाब अव्वलीन मौक़े का फ़ायदा उठा लिया जाये। दानिश्वरों ने अपने एक बयान में किसी वज़ीर का हवाला नहीं दिया लेकिन वो ज़ाहिर तौर पर वज़ीर-ए-ममलकत राज्य वर्धन राठौड़ का ज़िक्र कररहे थे जिन्होंने कहा कि इंडियन आर्मी शुमाल मशरिक़ी शोरिश पसंदों के ख़िलाफ़ म्यांमार हमले के बाद अब पाकिस्तान में सरहद पार मख़सूस हमले अंजाम दे सकती है।

इस बयान पर दस्तख़त करने वालों में कुलदीप नायर, मुकनद दूबे, जस्टिस राजिंदर सच्चर, मृणाल पांडे, मनोरंजन मोहंती, ज़ोया हुसैन, जोहान दयाल, एन डी पंचोली, मुहम्मद सलीम , सीमा मुस्तफा, जावेद नक़वी और समेत चक्रवर्ती शामिल हैं। सहीफ़ा निगारों, सिफ़ारत कारों, ज्यूरी की ज़िम्मेदारीयां निभाने वालों और दीगर शख़्सियतों वाले ग्रुप ने अपने बयान में कहा, हम हिंद। म्यांमार सरहद के पास शुमाल मशरिक़ के अस्करीयत पसंदों के ख़िलाफ़ हिन्दुस्तानी आर्मी के बज़ाहिर कामयाब ऑप्रेशन के बाद हुकूमत के आला सतह के नुमाइंदों, बरसर‍-ए‍-इक़्तेदार पार्टी के नामवर तर्जुमानों और जंगी हिक्मत-ए-अमली तए करने वालों और पालिसी साज़ों से क़रीबतर इदारों से वाबस्ता माहिरीन के जंगजूयाना नौईयत के बे परवाह बयानात बदरजा ग़ायत फ़िक्रमंद हैं।

हमें इस रवैये की वजह से जुनूबी एशिया में अमन और सलामती के लिए ख़तरनाक नताइज और हमारे पड़ोसीयों बिलख़ुसूस पाकिस्तान के साथ ताल्लुक़ात पर पड़ने वाले असरात की बाबत गहिरी तशवीश है।

TOPPOPULARRECENT