Sunday , October 22 2017
Home / India / मग़रिबी बंगाल की तरक़्क़ी के लिए कांग्रेस को इक़तिदार में लाया जाये

मग़रिबी बंगाल की तरक़्क़ी के लिए कांग्रेस को इक़तिदार में लाया जाये

रशहरा: ये इल्ज़ाम आइद करते हुए कि लेफ्ट फ्रंट और तृणमूल कांग्रेस मग़रिबी बंगाल के अवाम की तवक़्क़ुआत पूरा करने में नाकाम होगए हैं। नायब सदर कांग्रेस राहुल गांधी ने कहा कि सिर्फ़ कांग्रेस ही रियासत को दुबारा तरक़्क़ी की राह पर गाम

रशहरा: ये इल्ज़ाम आइद करते हुए कि लेफ्ट फ्रंट और तृणमूल कांग्रेस मग़रिबी बंगाल के अवाम की तवक़्क़ुआत पूरा करने में नाकाम होगए हैं। नायब सदर कांग्रेस राहुल गांधी ने कहा कि सिर्फ़ कांग्रेस ही रियासत को दुबारा तरक़्क़ी की राह पर गामज़न करसकती है ज़िला हुगली में जूट मिल वर्कर्स को मुख़ातब करते हुए उन्होंने रियासत में सी पी एम की ज़ेर-ए-क़ियादत बाएं बाज़ू के 34 साला दौर-ए-हकूमत का तज़किरा करते हुए कहा कि लेफ्ट फ्रंट ने मग़रिबी बंगाल में तरक़्क़ी की राहों को मस्दूद कर दिया।

जिस के बाद अवाम को ये ख़ुशफ़हमी होगई थी कि तृणमूल कांग्रेस रियासत को आगे बढ़ाएगी लेकिन साल 2011 में इक़तिदार में आने के बाद इस ने भी तरक़्क़ी के पहीए जाम करदिए जिस के बाइस तरक़्क़ीयाती सरगर्मीयां तात्तुल का शिकार होगईं। राहुल गांधी दरयाए गंगा के किनारे जूट मिल के वर्कर्स से मुख़ातब थे।

उन्होंने वर्कर्स को तैक़ून दिया कि उन के मसाइल पार्लियामेंट में उठाए जाऐंगे। रियासत में कांग्रेस को इक़्तेदार में लाने की अवाम से अपील करते हुए उन्हों ने कहा कि सिर्फ़ कांग्रेस ही तात्तुल को तोड़ कर बंगाल को तरक़्क़ी की सिम्त गामज़न करसकती है। वाज़िह रहे कि मग़रिबी बंगाल में कांग्रेस 1977 में इक़्तेदार से बेदखल होगई थी जहां पर लेफ्ट फ्रंट के बाद अब तृणमूल कांग्रेस बरसर-ए-इक्तदार है और हालिया मुनाक़िदा बलदी इंतेख़ाबात में वोटों के तनासुब से कांग्रेस को तृणमूल कांग्रेस, लेफ्ट फ्रंट और बी जे पी के बाद चौथा मुक़ाम हासिल हुआ था।

TOPPOPULARRECENT