Friday , September 22 2017
Home / Islami Duniya / यमन अमन मुज़ाकरात से क़ब्ल 7 दिन के लिए जंग बंदी की तसदीक़

यमन अमन मुज़ाकरात से क़ब्ल 7 दिन के लिए जंग बंदी की तसदीक़

Yemen's exiled President Abd-Rabbu Mansour Hadi (C) walks at Aden airport upon his arrival from Saudi Arabia in this November 17, 2015 photo provided by the Yemeni Presidency. Hadi returned to the southern port city of Aden on Tuesday to rally forces loyal to him in the country's civil war and oversee a campaign to retake the city of Taiz, a presidency official said. REUTERS/Yemen's Presidency/Handout via Reuters ATTENTION EDITORS - THIS PICTURE WAS PROVIDED BY A THIRD PARTY. REUTERS IS UNABLE TO INDEPENDENTLY VERIFY THE AUTHENTICITY, CONTENT, LOCATION OR DATE OF THIS IMAGE. EDITORIAL USE ONLY. NOT FOR SALE FOR MARKETING OR ADVERTISING CAMPAIGNS. NO RESALES. NO ARCHIVE. THIS PICTURE IS DISTRIBUTED EXACTLY AS RECEIVED BY REUTERS, AS A SERVICE TO CLIENTS

यमन के सदर मंसूर हादी ने अक़वामे मुत्तहिदा को बताया है कि उन्होंने सऊदी अरब की क़ियादत में इत्तिहाद को 15 दिसंबर से सात रोज़ के लिए जंग बंदी के लिए कि दिया है। उसी रोज़ अक़वामे मुत्तहिदा की सालिसी में यमन में ख़ानाजंगी के ख़ातमे के लिए मुज़ाकरात होंगे।

यमनी सदर मंसूर हादी ने अक़वामे मुत्तहिदा के सेक्रेट्री जेनरल को सोमवार को एक ख़त लिखा है जिसमें उन्हें आगाह किया है कि उन्होंने इत्तिहाद की क़ियादत को सात रोज़ के लिए जंग बन्दी से मुताल्लिक़ अपने इरादे से आगाह कर दिया है।

ये आरिज़ी जंग बन्दी 15 से 21 दिसंबर तक जारी रहेगी। उन्होंने कहा कि ये मुशावरती इजलास के साथ ही होगी और हूसीयों की जानिब से वाअदे के बाद ख़ुदकार तरीक़े से इस की तजदीद हो जाएगी।

यमनी सदर ने ये ख़त अक़वामे मुत्तहिदा की सलामती कौंसिल को भी भेजा है और इस में मज़ीद कहा है कि आप अक़वामे मुत्तहिदा के एलची को आगाह कर देंगे कि वो हूसीयों से जंग बंदी के एहतेराम को यक़ीनी बनाएँ और वो मुस्तक़िल जंग बंदी के लिए अमली इक़दामात करें ताकि इत्तिहादी फ़ोर्सेस सीज़ फ़ायर की किसी ख़िलाफ़वर्ज़ी की सूरत में कोई कार्रवाई ना करें।

TOPPOPULARRECENT