Tuesday , August 22 2017
Home / World / यमन पर सऊदी अरब के 20 हवाई हमले, सनआ में मुजाहिरा

यमन पर सऊदी अरब के 20 हवाई हमले, सनआ में मुजाहिरा

सनआ : गुरुवार को यमन के स्वयंसेवी बल अंसारुल्लाह के दर्जनों सदस्य हाथों में यमनी झंडा और सऊदी अरब के अतिक्रमण की निंदा पर आधारित बैनर लिए हुए थे। यमनी जनता ने सऊदी अरब के हमले का दृढ़ता से मुक़ाबला करने का संकल्प लिया। अंसारुल्लाह के एक फ़ाइटर बाकिल अल-क़तवानी ने सऊदी अरब के 16 महीनों से यमन पर जारी हमले के ख़िलाफ़ रैली का उद्देश्य, सऊदी अरब के अतिक्रमण और इस देश के फ़रारी पूर्व राष्ट्रपति मंसूर हादी के समर्थकों के ख़िलाफ़ विभिन्न मोर्चों पर लड़ रहे जियालों के प्रति समर्थन दर्शाना बताया। इस बीच यमनी सूत्रों ने बताया कि शुक्रवार तड़के सऊदी युद्धक विमानों ने राजधानी सनआ के कई इलाक़ों सहित दूसरे स्थान पर लगभग 20 हवाई हमले किए।

सूत्र ने बताया कि सऊदी युद्धक विमानों ने सनआ के केन्द्रीय भाग अन-नहदैन पर 3 हवाई हमले किए और दो हवाई हमले सबाहा सैन्य छावनी पर किए जो राजधानी सनआ के उपनगरीय भाग में स्थित है। इसी प्रकार सऊदी युद्धक विमानों ने शरआ ज़िले और यमन की 62वीं बटालियन के कैंप पर 7 बार हमले किए। सऊदी युद्धक विमानों ने सअफ़ान ज़िले में एक पुल को बमबारी से तबाह कर दिया जिसमें एक बच्चा और तीन औरतें घायल हुयी हैं।

सऊदी युद्धक विमानों ने यमन के पश्चिमी प्रांत महवीत के बनी सअद ज़िले में स्थित पुल पर 2 बार बमबारी की जिससे राजधानी सनआ और बंदरगाही शरह हुदैदा का संपर्क टूट गया। इसी प्रकार सऊदी युद्धक विमानों ने सनआ के दक्षिण-पूर्वी उपनगरीय क्षेत्र में स्थित सनहान गांव के बाहर पहाड़ी क्षेत्र पर तीन हवाई हमले किए जिसमें रिपोर्ट मिलने तक किसी प्रकार की जानी और माली नुक़सान की कोई ख़बर नहीं थी।

ग़ौरतलब है कि कुवैत में संयुक्त राष्ट्र संघ की मध्यस्थता से यमनी पक्ष और पूर्व फ़रारी राष्ट्रपति मंसूर हादी के प्रतिनिधियों के बीच बातचीत नाकाम होने के बाद यमन संकट पर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर चिंता बढ़ गयी है। सऊदी अरब 26 मार्च 2015 से यमन पर हमले कर रहा है जिसमें हज़ारों की संख्या में बेगुनाह यमनी नागरिक हताहत व घायल हुए। (MAQ/N)

TOPPOPULARRECENT