Monday , June 26 2017
Home / Khaas Khabar / याचिका दाखिल करने पर सुप्रीम कोर्ट ने एक विधायक पर लगाया 10 लाख का जुर्माना

याचिका दाखिल करने पर सुप्रीम कोर्ट ने एक विधायक पर लगाया 10 लाख का जुर्माना

नई दिल्ली: बिहार के जहानाबाद इलाके के आरएलडी विधायक पर सुप्रीम कोर्ट ने दस लाख का का जुर्माना लगाया है। सुप्रीम कोर्ट ने यह जुर्माना फ्रीविलॉस यानी तुच्छ याचिका दाखिल करने के कारण लगाया है। मुख्य न्यायधीश खेहर ने आरएलडी विधायक से कहा कि आप जनता के प्रतिनिधि हैं इसका मतलब ये नहीं कि सुप्रीम कोर्ट के अधिकारों का दुरुपयोग करेंगे।

दरअसल, सुप्रीम कोर्ट में जहानाबाद जिले के अरवल इलाके के विधायक रविंद्र सिंह ने 1994 में एक मैगजीन में छपे लेख पर जांच की मांग वाली याचिका दाखिल की थी। इस याचिका में कहा गया कि यह लेख पिछडी जातियों के खिलाफ है और इसकी जांच होनी चाहिए।

मुख्य न्यायधीश ने कहा कि यह लेख 1994 का है। आप अब आ रहे हैं। इसके बाद याचिकाकर्ता रविंद्र सिंह के वकील ने बताया कि उन्होंने यह 2013 में पढ़ा। इसके बाद पटना हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की गई। पिछले साल दिसंबर में हाईकोर्ट ने इस याचिका को खारिज कर दिया। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हमें यह समझ नहीं आ रहा कि यह याचिका क्यों दाखिल की गई है इसलिए याचिकाकर्ता पर दस लाख का जुर्माना लगाया जाता है।

उसके बाद याचिकाकर्ता के वकील ने माफ कर देने को कहा। इस पर मुख्य न्यायधिश ने अपनी एक कहानी सुनाई कि जब वह हॉस्टल में पढ़ते थे तो एक छात्र को 25 रुपये जुर्माना लगा, लेकिन उस छात्र ने इस पर विरोध जताया और कहा कि सिर्फ 25 रुपये क्यों? ज्यादा होना चाहिए क्योंकि मैं बड़े अमीर परिवार से हूं। आप विधायक हैं आपको भी छात्र की तरह कहना चाहिए।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT