Tuesday , October 24 2017
Home / Khaas Khabar / यूपीए पर मुल्क‌ को आर्थीक‌ बदहाली के दहाने पर पहूँचाने का इल्ज़ाम

यूपीए पर मुल्क‌ को आर्थीक‌ बदहाली के दहाने पर पहूँचाने का इल्ज़ाम

* स्टैंर्ड एंड पोर्क रिपोर्ट पर मोदी का जवाब‌

* स्टैंर्ड एंड पोर्क रिपोर्ट पर मोदी का जवाब‌
अहमदाबाद । हिंदूस्तान में तरक़्क़ी और सरमाया कारी के ग्राफ‌ मैं गीरावट‌ के अंदेशों के बारे में स्टैंर्ड पोर कंपनी की तफ़सीलात पर गुजरात के चीफ़ मिनिस्टर नरेंद्र मोदी ने यूपीए हुकूमत को अपनी सख़्त तन्क़ीद(कडी आलोचना) का निशाना बनाया और इल्ज़ाम लगाया कि हुकूमत इस मुल्क को दीवालीया के दहाने पर पहूँचा रही है।

मिस्टर मोदी ने कहा कि कांग्रेस की क़ियादत वाली यू पी ए कि ज़हरीले एक्ता ने अपने कमज़ोर आथीक‌ फ़ैसलों, इस्लाहात के ना होने और सियासी रुकावटों ने मुल्क को बर्बादी के दहाने पर पहुंचा दिया है।इंटरनेशनल इकोनोमिक एंड कारोबारी संस्था स्टैंर्ड एंड पोर (एस एन पी) ने कल‌ जारी कि गई अपनी रिपोर्ट में कहा था कि क्या हिंदूस्तान बर्क का पहला गिरने वाला फ़रिश्ता होगा इस रिपोर्ट में और‌ कहा गया था कि कुल‌ घरेलू पैदावार में बहुत कमी और आथिक पोलिसी बनाने में सियासी रुकावटें हिंदूस्तान को सरमाया कारी में अपने दर्जा के ग्राफ‌ से महरूमी के दहाने पर पहूँचा सकती हैं, जिस पर मोदी ने ट्वीटर पर लिखा हैकि यूपीए हुकूमत ने 9 साल के दौरान इस सह‌ माही में बहुत कम‌ घरेलू पैदावार का ग्राफ दिया है। अभितक‌ मानसून भी बारिश भि जरुरत के मुताबिक नहि है, हम एक मुल्क कि तरह पर अब किस तरफ‌ बढ़ रहे हैं?

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और कांग्रेस की चेयरप्रस्न‌ सोनीया गांधी पर तन्क़ीद(आलॊचना) करते हुए मोदी ने ट्वीटर पर लिखा कि ऐस ऐंड पी ने कहा हैकि कांग्रेस की ताक़तवर सदर और तय किये गए वज़ीर-ए‍आज़म(प्रधानमंत्री) के दरमयान‌ रोल की तक़सीम ने पोलिसी बनाने के ढांचे को कमज़ोर कर दिया है और एक सियासी ख़ला पैदा करने का सबब बना है।

एस एंड पी की रिपोर्ट ने लिखा था कि इस भि बडी बात ये हैकि सियासी सत्ता कांग्रेस पार्टी की लीडर सोनीया गांधी के पास है जो किसी केबिनेट‌ ओहदे पर नहीं हैं जबकि हुकूमत एक एजाजी प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की क़ियादत में चलाई जा रही है, जिन की अपनी कोई सियासी बुनियाद नहीं है।

मोदी ने फैनान्स मंत्री प्रणब मुखर्जी की तरफ‌ से ऐस ऐंड पी रिपोर्ट को र‌द कर जाने का भी मज़ाक़ उड़ाया और कहा कि ये कोई हैरतअंगेज़ बात नहीं है।

TOPPOPULARRECENT