Friday , August 18 2017
Home / India / यूपी विधानसभा चुनाव : औवेसी ने सिद्धार्थनगर रैली में दिखायी ताक़त

यूपी विधानसभा चुनाव : औवेसी ने सिद्धार्थनगर रैली में दिखायी ताक़त

वाराणसी : सिद्धार्थनगर रैली में जिस तरह औवेसी को सुनने के लिए भीड़ उमड़ी है उससे साफ़ हो गया है कि यूपी विधानसभा चुनाव में एमआईएम सपा और बसपा के लिए परेशानी बन सकती है |

सपा सरकार काफी दिनों से औवेसी को यूपी में सभा करने की अनुमति नहीं दे रही थी |यूपी में 2017 में विधानसभा चुनाव होने हैं और इस बात की पूरी संभावना है कि दिसंबर में चुनाव आचार संहिता लागू हो जाए|पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष शौकत अली माहुली ने आरोप लगाया कि सपा सरकार ने इससे पहले रैलियां करने की अनुमति नहीं दी | इस वजह से एमआईएम को चुनाव प्रचार का ज़्यादा मौक़ा नहीं मिल पाया | अगर दिसंबर में चुनाव आचार संहिता लगेगी इसका फ़ायदा एमआईएम को होगा | उनकी रैलियों पर रोक नहीं लग सकेगी जिसकी वजह से वे जमकर प्रचार कर सकते हैं |

सपा और बसपा को यूपी में बहुमत हासिल करने के लिए मुस्लिम वोटों की ज़रुरत है | लेकिन औवेसी की रैली में मुसलमानों की जुटी भीड़ सपा और बसपा को मुश्किल में डाल सकती है | एमआईएम ने रैली में भीड़ जुटा कर ये संदेश दिया है कि उसे कम न आंका जाए | सपा ने मुस्लिम वोट खिसकने के डर से कांग्रेस के साथ गठबंधन से इनकार किया है|

योगी के गढ़ में जिस तरह से एमआईएम की रैली में भीड़ जुटी है उससे पता चलता है कि औवेसी का क्रेज़ मुसलमानों में कम नहीं है | दलित और मुस्लिम समीकरण बनाने की बात एमआईएम ने कही है | एमआईएम का बसपा के साथ गठबंधन हो जाता है तो एमआईएम को इसका फ़ायदा मिलेगा |  एमआईएम का किसी दल के साथ गठबंधन नहीं होने पर इसी समीकरण के तहत उम्मीदवार उतारे जायेंगे | यूपी में सरकार किस की बनती है ये तो यूपी की जनता तय करेगी | लेकिन औवेसी की पार्टी के चुनाव लड़ने से सपा और बसपा के लिए परेशानी का सबब बन सकती है |

TOPPOPULARRECENT