Sunday , August 20 2017
Home / Khaas Khabar / यूरोप: मुसलमानों के लिए पहली बार नसलवाद से सुरक्षा के रह-नुमा सिद्धांत

यूरोप: मुसलमानों के लिए पहली बार नसलवाद से सुरक्षा के रह-नुमा सिद्धांत

बेल्जियम: एक यूरोपीय महिला कार्यकर्ता की ओर से निर्देश पर शामिल एक रह नुमा तैयार किया गया है जो यूरोप के इतिहास में अपनी तरह का पहला दस्तावेज है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

रह-नुमा में मुसलमानों को नस्लवाद के आधार पर “इस्लामोफोबिया” के कारण किसी भी तरह के उल्लंघन, तंगी या हमले का निशाना बनने के मामले में सुरक्षा और सहायता प्रदान करने की विधि निर्देश शामिल की गई हैं।
यूरोप में मुसलमानों के खिलाफ शत्रुतापूर्ण हमलों की निगरानी करने वाले संगठनों का कहना है कि “इस्लामोफोबिया” के परिणामस्वरूप होने वाले इन हमलों में ब्रिटेन यूरोपीय संघ से निकल जाने के बारे में कराए गए जनमत संग्रह के बाद 326% तक वृद्धि हुई। जहां तक महाद्वीप यूरोप के अन्य भागों का संबंध है तो वहां मुसलमानों को निशाना बनाने के लिए होने वाले घृणित हमले में आईएस संगठन की ओर से यूरोप के विभिन्न स्थानों पर विशेषकर जर्मनी, फ्रांस और बेल्जियम में किए गए आतंकवादी गतिविधियां बढ़ जाने के बाद वृद्धि हुई है।
फ्रांस के विभिन्न नगर पालिकाओं ने कुछ समय पहले मुसलमान महिलाओं में लोकप्रिय तैराकी के आलीशान कपड़े ‘बुर्किनी’ के उपयोग पर प्रतिबंध लगा दिया। यह रोक इस समय अपनी चरम पर पहुंच गई जब यूरोप इन तस्वीरों को देखकर हिल गया जिनमें फ्रांस के एक समुद्र में सशस्त्र पुलिस अधिकारी जबरन एक महिला को बुर्किनी उतार देने के लिए मजबूर कर रहे हैं। बाद में घटना के केवल दो दिन बाद ही अदालत ने हस्तक्षेप करके प्रतिबंध के फैसले पर अमल रोक दिया।

TOPPOPULARRECENT