Tuesday , October 24 2017
Home / Khaas Khabar / यू पी ए में शमूलीयत का फ़ैसला मुलायम सिंह करेंगे

यू पी ए में शमूलीयत का फ़ैसला मुलायम सिंह करेंगे

चीफ़ मिनिस्टर उत्तर प्रदेश अखिलेश यादव ने आज कहा कि बदलते सयासी मंज़र में मर्कज़ की यू पी ए हुकूमत में एस पी की शमूलीयत के ताल्लुक़ से कोई भी फ़ैसला पार्टी सरबराह मुलायम सिंह यादव करेंगे। आज राज भवन में तक़रीब हलफ़ बर्दारी के बाद अखिले

चीफ़ मिनिस्टर उत्तर प्रदेश अखिलेश यादव ने आज कहा कि बदलते सयासी मंज़र में मर्कज़ की यू पी ए हुकूमत में एस पी की शमूलीयत के ताल्लुक़ से कोई भी फ़ैसला पार्टी सरबराह मुलायम सिंह यादव करेंगे। आज राज भवन में तक़रीब हलफ़ बर्दारी के बाद अखिलेश यादव ने अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए कहा कि यू पी ए हुकूमत में शमूलीयत या अदम शमूलीयत के ताल्लुक़ से कोई भी फ़ैसला नेताजी (मुलायम सिंह यादव) करेंगे।

वो दिल्ली जा रहे हैं और यू पी ए में शमूलीयत के ताल्लुक़ से एस पी के मौक़िफ़ के बारे में फ़ैसला भी करेंगे। अखिलेश यादव से कांग्रेस लीडर द्विग विजय सिंह के इस ब्यान के बारे में पूछा गया था जिसमें उन्होंने कहा था कि समाजवादी पार्टी यू पी ए हुकूमत में शामिल हो सकती है। अखिलेश ने कहा कि समाजवादी पार्टी के कांग्रेस के साथ रवाबित का फ़ैसला मुलायम सिंह करेंगे।

समाजवादी पार्टी ने कांग्रेस ज़ेर-ए-क़ियादत यू पी ए हुकूमत की अगरचे ताईद की है लेकिन वो हुकूमत में शामिल नहीं हुई। सीनीयर एस पी लीडर-ओ-का बीनी वज़ीर-ए-आज़म ख़ान से जब इस मसला पर पूछा गया तो उन्होंने जवाब दिया कि समाजवादी पार्टी मीडीया में जारी होने वाले ब्यानात की बुनियाद पर सयासी फ़ैसला नहीं करती। उन्होंने कहा कि हम ने द्विग विजय सिंह का ब्यान की बुनियाद पर अब तक कोई मौक़िफ़ इख्तेयार नहीं किया है।

उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी को यू पी ए में शामिल होने के ताल्लुक़ से फ़ैसला नुमायां एहमीयत का हामिल है और इस बारे में कांग्रेस के मीडीया के तवस्सुत से जारी किए जाने वाले ब्यानात से अच्छा तास्सुर क़ायम नहीं होगा। कांग्रेस को इस तरह के ग़ैर ज़िम्मा दाराना ब्यानात मीडीया में जारी नहीं करना चाहीए। अगर सदर कांग्रेस सोनीया गांधी की जानिब से एस पी को यू पी ए में शमूलीयत की दावत दी जाये तो समाजवादी पार्टी का मौक़िफ़ क्या होगा?

इस पर आज़म ख़ां ने कहा कि मीडीया की ईमा पर कोई भी फ़ैसला नहीं किया जा सकता।इस दौरान दिल्ली में समाजवादी पारलीमानी पार्टी लीडर राम गोपाल यादव ने द्विग विजय सिंह के ब्यान की एहमीयत कम करने की कोशिश की। इस में उन्हों ने कहा था कि तृणमूल कांग्रेस के हाथों मख़लूत हुकूमत के लिए परेशानकुन सूरत-ए-हाल के पस-ए-मंज़र में समाजवादी पार्टी यू पी ए में शमूलीयत इख्तेयार कर सकती है।

राम गोपाल यादव ने इस्तिफ्सार किया कि द्विग विजय सिंह कौन हैं ? वो किस बुनियाद पर और किस ओहदा पर रहते हुए ये ब्यान दे रहे हैं, क्या वो वज़ीर-ए-आज़म हैं? उन्होंने कहा कि इस तरह की फ़र्ज़ी राय पर हम कोई तबसिरा नहीं कर सकते। समाजवादी पार्टी के लोक सभा में 22 अरकान हैं और उत्तर प्रदेश इंतेख़ाबात से क़व्ल कांग्रेस ने इशारा दिया था कि वो एस पी को शामिल करने के लिए तैयार है।

TOPPOPULARRECENT