Tuesday , October 17 2017
Home / India / येदि यूरप्पा के हामी 3 अरकान असेंबली मुस्ताफ़ी , वुज़रा का गुरेज़

येदि यूरप्पा के हामी 3 अरकान असेंबली मुस्ताफ़ी , वुज़रा का गुरेज़

बैंगलोर, 30 जनवरी ( पी टी आई) बी एस येदी यूरप्पा को दोहरे झटके में असेंबली स्पीकर ने आज उनके वफ़ादार 12 बरसर‍ ए‍ इक्तेदार बी जे पी एम एल एज़ के इस्तीफ़े रोक लिए, जबकि कर्नाटक जनता पार्टी के साबिक़ बानी ने साबिक़ चीफ़ मिनिस्टर को पार्टी की सदा

बैंगलोर, 30 जनवरी ( पी टी आई) बी एस येदी यूरप्पा को दोहरे झटके में असेंबली स्पीकर ने आज उनके वफ़ादार 12 बरसर‍ ए‍ इक्तेदार बी जे पी एम एल एज़ के इस्तीफ़े रोक लिए, जबकि कर्नाटक जनता पार्टी के साबिक़ बानी ने साबिक़ चीफ़ मिनिस्टर को पार्टी की सदारत से हटा दिया।

बी जे पी के 13 बाग़ी अरकान असेंबली जिनकी शनाख़्त पार्टी के साबिक़ मर्द आहन येदि यूरप्पा के हामीयों की हैसियत से होती है, अपनी असेंबली रुकनीयत छोड़ते हुए अपने मुक्तो बात इस्तीफ़ा स्पीकर के जी बोपया के सपुर्द कर दिए । अरकान असेंबली ने शख़्सी तौर पर असेंबली की रुकनीयत से दस्तबरदार होने के मुक्तो बात स्पीकर बोपया को एक दो बदू मुलाक़ात में हवाला कर दिए ।

स्पीकर ने उन से दरयाफ्त किया कि क्या वो अपनी मर्ज़ी और बगै़र किसी दबाव के मुस्ताफ़ी हो रहे हैं । जब मुशावरत जारी थी तो स्पीकर की सेक्रेट्रेट ने एक बयान जारी करते हुए कहा कि चला कैरी (एसटी ) हल्क़ा‍ इंतेख़ाब के रुकन असेंबली तपस्वामी का इस्तीफ़ा मंज़ूर कर लिया गया है ।

बाक़ी 12 अरकान असेंबली के मुक्तो बात इस्तीफ़ा का हश्र मालूम ना हो सका । येदीयूरप्पा कैंप की जानिब से इस्तीफ़ों का इक़दाम जगदीश शट्तार हुकूमत को 4 फ़रवरी को शुरू होने वाले बजट सेशन से क़बल बोहरान में ढकेलना है। ताहम उन्हें कामयाबी नहीं मिली।

उन्होंने स्पीकर की कार्रवाई की मुज़म्मत करते हुए उसे जम्हूरीयत के क़त्ल से ताबीर किया और स्पीकर के इस्तीफ़े का मुतालिबा किया। दरीं असना बी जे पी ने 12 बाग़ी अरकान असेंबली पर पार्टी मुख़ालिफ़ सरगर्मीयों का इल्ज़ाम आइद करते हुए उन्हें नाअहल क़रार देने की ख़ाहिश की ।

उनके मुक्तो बात इस्तीफ़ा पहले ही से स्पीकर को दाख़िल कर दिए गए हैं और इम्कान है कि उन पर समाअत की जाएगी । बी जे पी ने आज एक और शिकायत दाख़िल करते हुए पाँच अरकान कौंसल को जो कर्नाटक जनता पार्टी की ताईद करते रहे हैं जो बी जे पी से तर्क-ए-ताल्लुक़ के बाद बी एस येदि यूरप्पा ने क़ायम की है ,नाअहल क़रार देने का मुतालिबा किया ।

बी जे पी के तर्जुमान अशोत नारायण और सोमना ने जो दोनों अरकान कौंसल हैं एक शिकायत सेक्रेटरी क़ानूनसाज़ कौंसल वे सुरेश को पेश करते हुए पांचों अरकान कौंसल को नाअहल क़रार देने की गुज़ारिश की । बी जे पी चाहती है कि बी जे पट्टा स्वामी ,मोहन लंबीकाई ,भारती शेट्टी ,मुमताज़ अली ख़ां और शैव राज सजनार को 9 दिसंबर 2012 से जिस दिन उन्हों ने हा वेरी में कर्नाटक जनता पार्टी के जल्सा-ए-आम में शिरकत की थी , ना अहल क़रार दिया जाये ।

उन्होंने इद्दिआ किया कि अरकान कौंसल पर दस्तूर के दसवें शैड्यूल की दफ़ा 2(1)A लागू होती है क्योंकि उन्हों ने दूसरी सयासी पार्टी की सरगर्मीयों में शिरकत की थी हालाँकि बी जे पी अरकान की हैसियत से मुंतख़ब किए गए थे । कल बी जे पी ने बी ऐस यदि यूरिया की कर्नाटक जनता पार्टी से रवाबित पर 12 अरकान असेंबली को नाअहल क़रार देने की दरख़ास्त पेश की हैं ।

दरीं असना एजेंसी की इत्तिला के बमूजब येदि यूरप्पा के चंद हामीयों ने सदर के जे पी के मज़ीद बी जे पी अरकान असेंबली के मुस्ताफ़ी होने के मंसूबों पर पानी फेर दिया। येदि यूरप्पा चाहते थे कि पाँच से छः मज़ीद बी जे पी अरकान असेंबली बिशमोल चंद वुज़रा अपने इस्तीफ़ा पेश कर दें ताकि कर्नाटक की मौजूदा हुकूमत का वजूद ख़तरा में पड़ जाये ताहम उनके बाअज़ वफादारों बिशमोल रियासती वज़ीर एक्साइज़ एम पी रेणुका ,राम्पा लामानी , सी सी पाटिल और सिरी शील्पा ( तमाम अरकान असेंबली ) ने बी जे पी में बरक़रार रहने का फ़ैसला किया ।

ये वफ़ादारियां तब्दील करने वाले अरकान की अलामत हैं । येदि यूरप्पा ने एक अलैहदा प्रेस कान्फ्रेंस में कहा कि वो शट्टर हुकूमत को इक़तिदार ( शासन) से बेदख़ल करना नहीं चाहते और निशानदेही की कि वो 8 फ़रवरी को बजट की पेशकशी की मुख़ालिफ़ नहीं है ।

TOPPOPULARRECENT