Saturday , October 21 2017
Home / India / येदी यूरप्पा का 70 पार्टी अरकान असेंबली के साथ नाशतादान इजलास

येदी यूरप्पा का 70 पार्टी अरकान असेंबली के साथ नाशतादान इजलास

कर्नाटक बी जे पी के लीडर मिस्टर बी एस येदी यूरप्पा ने आज पार्टी अरकान असेंबली और वुज़रा के लिए नाशतादान मुलाक़ात का एहतेमाम किया जिसके बाद ये कयास आराईयां शुरू हो गई हैं कि वो मर्कज़ी क़ियादत पर दबाव में इज़ाफ़ा कर रहे हैं कि उन्हें दुबा

कर्नाटक बी जे पी के लीडर मिस्टर बी एस येदी यूरप्पा ने आज पार्टी अरकान असेंबली और वुज़रा के लिए नाशतादान मुलाक़ात का एहतेमाम किया जिसके बाद ये कयास आराईयां शुरू हो गई हैं कि वो मर्कज़ी क़ियादत पर दबाव में इज़ाफ़ा कर रहे हैं कि उन्हें दुबारा चीफ मिनिस्टर की हैसियत से बहाल किया जाए ।

येदी यूरप्पा की क़ियामगाह पर हुई इस नाशतादान मुलाक़ात में चीफ मिनिस्टर मिस्टर डी वी सदानंद गौड़ा और बी जे पी रियासती यूनिट के सरबराह मिस्टर के एस इश्वर पा गैर हाज़िर रहे । इद्दिआ किया गया है कि इस इजलास में ज़ाइद अज़ 70 अरकान असेंबली और 18 अरकान कौंसल ने शिरकत की ।

हाल ही में मिस्टर येदी यूरप्पा ने 70 अरकान असेंबली को एक रेसॉर्ट ( Resort) में जमा करते हुए अपनी ताक़त का मुज़ाहरा किया था ताहम बाद में उन्होंने मर्कज़ी क़ियादत की मुदाख़िलत पर अपने मौक़िफ़ में नरमी पैदा कर ली थी । उन्होंने आज बताया कि असेंबली बजट सेशन के आख़िरी दिन मुनाक़िदा इस इजलास में कोई सयासी तबादला ख़्याल नहीं हुआ है ।

मिस्टर येदी यूरप्पा ने अख़बारी नुमाइंदों से बात चीत करते हुए कहा कि असेंबली के बजट इजलास का आज इख्तेताम अमल में आया और तमाम अरकान असेंबली अपने अपने हल्क़ा‍ इंतेख़ाब को चले जाएंगे । हमारी आइन्दा मुलाक़ात तीन माह बाद ही होगी । मीडिया को आज की नाशतादान मुलाक़ात को कोई सयासी रंग नहीं देना चाहीए ।

येदे यूरप्पा ने कहा कि चीफ मिनिस्टर और बी जे पी के रियासती सदर इस इजलास में शिरकत नहीं कर सके की क्योंकि वो पहले से मसरूफ़ थे । इस सवाल पर कि आया हाईकमान की जानिब से रियासती क़ियादत का मसला अंदरून एक हफ़्ता हल होने की कोई उम्मीद है मिस्टर येदे यूरप्पा ने कहा कि वो कोई तवक़्क़ो नहीं रखते और इस ताल्लुक़ से फैसला मर्कज़ी क़ियादत पर छोड़ दिया गया है ।

वो मर्कज़ी क़ियादत की जानिब से किए जाने वाले किसी भी फैसले की मुदाफ़अत करेंगे । रियासती वज़ीर आबी वसाइल मिस्टर विश्वा राज बोमाई ने भी कहा कि आज के इजलास में कोई सयासी तबादला ख़्याल नहीं हुआ है । मिस्टर बोमाई येदी यूरप्पा के कट्टर हामियों में शुमार किए जाते हैं। इस सवाल पर कि आया मिस्टर येदी यूरप्पा के हामियों को अभी भी उम्मीद है कि वो चीफ मिनिस्टर बन सकते हैं मिस्टर बोमाई ने कहा कि वो इस मसला पर कोई तबसिरा नहीं करेंगे की उनका ये मसला हाईकमान के ज़ेर ग़ौर है और वही इस ताल्लुक़ से कोई क़तई फैसला करेगी ।

उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि मिस्टर येदी यूरप्पा की बहैसियत चीफ मिनिस्टर वापसी के ताल्लुक़ से कोई क़तई तारीख मुक़र्रर नहीं की गई है ।

TOPPOPULARRECENT