Thursday , October 19 2017
Home / Hyderabad News / रबात निज़ाम के लिये तीन हज़ार से ज़ाइद दरख़्वास्तें मौसूल

रबात निज़ाम के लिये तीन हज़ार से ज़ाइद दरख़्वास्तें मौसूल

जेद्दाह 02 जून : नाज़िर रबात निज़ाम हैदराबाद मक्काह मुकर्मा हुसैन मुहम्मद अल शरीफ़ ने बताया कि हज कमेटी आफ़ इंडिया से चुने हुवे आज़मीन की दरख़्वास्तें वसूल होने का सिलसिला जारी है और अब तक 3008 दरख़्वास्तें मौसूल होचुकी हैं जिन में 2898 की तन्क़

जेद्दाह 02 जून : नाज़िर रबात निज़ाम हैदराबाद मक्काह मुकर्मा हुसैन मुहम्मद अल शरीफ़ ने बताया कि हज कमेटी आफ़ इंडिया से चुने हुवे आज़मीन की दरख़्वास्तें वसूल होने का सिलसिला जारी है और अब तक 3008 दरख़्वास्तें मौसूल होचुकी हैं जिन में 2898 की तन्क़ीह मुकम्मल करली गई जिसे क़ुरआ में शामिल किया जाएगा।

आंध्र प्रदेश से 2038 , कर्नाटक से 172 और महाराष्ट्रा से 688 दरख़्वास्तें क़ुरआ अंदाज़ी में शामिल की गई हैं। उन्होंने बताया कि दरख़्वास्तें दाख़िल करने की आख़िरी तारीख 10 जून है।

जिस के बाद ऑनलाइन क़ुरआ अंदाज़ी अमल में आएगी। जारीया साल हर इमारत में आज़मीन के क़ियाम की गुंजाइश का काम मुक़ामी बलदिया की तरफ से जारी है और इस पर नज़र-ए-सानी की जा रही है।

हिन्दुस्तानी क़ौंसिलख़ाना जेद्दाह और हज कमेटी आफ़ इंडिया को इस पेशरफ़्त के बारे में मतला किया जा रहा है। उन्होंने इस ज़िमन में सऊदी अरब के क़वानीन के मुताबिक़ दरकार तफ़सीलात का भी ज़िक्र किया। आज़मीन हज hrubath.org पर दरख़्वास्तें दाख़िल करसकते हैं।

TOPPOPULARRECENT