Monday , June 26 2017
Home / Bihar/Jharkhand / रांची में मिलावटखोरों का बड़ा रैकेट, मिलावटखाेराें के खिलाफ बड़ा अभियान चलानेवाले  भाेर सिंह यादव ट्रांसफर

रांची में मिलावटखोरों का बड़ा रैकेट, मिलावटखाेराें के खिलाफ बड़ा अभियान चलानेवाले  भाेर सिंह यादव ट्रांसफर

रांची : रांची एसडीओ भोर सिंह यादव ने बुधवार काे कहा : रांची में मिलावटखोरी चरम पर है. यहां  मिलावटखोरों -जमाखाेराें का बड़ा रैकेट काम कर रहा है. इनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होनी  ही चाहिए. यहां आटा, मसाला, देसी घी, खाद-बीज और तेल में मिलावट हो रही है.  पेट्रोल में भी मिलावट की जाती है.  रांची में मिलावटखाेराें के खिलाफ बड़ा अभियान चलानेवाले  भाेर सिंह  यादव रविवार काे प्रभात खबर से बात कर रहे थे. उनका तबादला मंगलवार काे जामताड़ा डीडीसी के पद पर किया गया. वह एक-दाे दिन में नये पद पर याेगदान भी देंगे.
लर्निग एक्सपीरियंस रहा : अपने चार माह के कार्यकाल में भोर सिंह आम जनता के बीच काफी लोकप्रिय हुए, वह बताते हैं,  रांची में जमाखोरी पर भी अंकुश लगना चाहिए. एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा : मेरी कार्रवाई से हो सकता है कि व्यवसायी मेरे विरोध में हों, लेकिन इनकी संख्या बहुत कम है. जो गलत काम कर रहे हैं, वे मेरे विरोधी हो सकते हैं.
उन्होंने कहा : काम करने के लिए चार माह कम नहीं होता है. मेरे लिए यह लर्निंग एक्सपीरियंस रहा. फ्रूटफुल रहा. सभी वरीय पदाधिकारियों का साथ मिला. कार्यपालक दंडाधिकारियों अौर कर्मचारियों ने भी साथ दिया. जहां भी छापामारी हुई, वहां की पुलिस का भी पूरा साथ मिला.
तबादला पार्ट ऑफ जॉब 
भोर सिंह अपने तबादले को पार्ट ऑफ जॉब मानते हैं. कहते हैं, काम करनेवाले अधिकारियों के लिए कई क्षेत्र हैं. मैं काम को इंज्वॉय करता हूं. मैं जहां भी रहा, निडर होकर काम किया.

साेशल साइट्स पर छाये
अपने काम की बदौलत अलग  पहचान बना चुके भोर सिंह सोशल साइट्स पर भी छाये रहे. इनके तबादले को लेकर फेसबुक व वाट्सएप पर जम कर बहस हो रही है. सरकार के फैसले पर सवाल भी खड़े किये जा रहे हैं. इनके चार माह के कार्यकाल की काफी सराहना हो रही है.

Top Stories

TOPPOPULARRECENT