Saturday , October 21 2017
Home / Crime / राजधानी में एक और खातून के साथ गैंगरेप

राजधानी में एक और खातून के साथ गैंगरेप

मुल्क की दार उल हुकूमत में हुए गैंगरेप की अफशोसनाक वारदात का मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ है कि दिल्ली के ‌ही कालकाजी इलाके में एक और खातून इजतिमायी आबरूरेज़ी की शिकार हो गई है। मुतास्सिरा खातून कालकाजी में सड़क पर पाई गई। मुतास्सिर

मुल्क की दार उल हुकूमत में हुए गैंगरेप की अफशोसनाक वारदात का मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ है कि दिल्ली के ‌ही कालकाजी इलाके में एक और खातून इजतिमायी आबरूरेज़ी की शिकार हो गई है। मुतास्सिरा खातून कालकाजी में सड़क पर पाई गई। मुतास्सिरा की शिकायत पर पुलिस ने तीन लोगों को मुल्ज़िम बनाया है।

मुतास्सिरा राजस्‍थान के जयपुर की रहने वाली है। वह वृंदावन से दिल्ली आ रही थी। इसी दौरान वृंदावन में खातून के एक जानकार ने उसे कार में लिफ्ट दी और उसे दिल्ली छोड़ने का भरोसा दिया। सफर के दौरान मुल्ज़ीमीन ने कार में ही खातून के साथ गैंगरेप किया और दिल्ली के कालकाजी इलाके में सड़क पर फेंक कर फरार हो गए।

मुतास्सिरा की शिकायत पर पुलिस ने तीन लोगों का मुल्ज़िम बनाया है। अहम मुल्जिम का नाम दिलीप वर्मा है जो खातून का जानने के सात्वाला बताया जाता है। दिलीप वर्मा वृंदावन में गाइड का काम करता है। इल्ज़ाम है कि उसने ही अपने दो साथियों के साथ मिलकर खातून की इस्मतरेज़ी की।

इल्ज़ाम मुताबिक वृंदावन में खातून के जानकार दिलीप वर्मा ने उसे दिल्ली तक लिफ्ट देने का भरोसा दिलाया। उस वक्त गाड़ी में अहम मुल्ज़िम दिलीप वर्मा के अलावा उसके दो दोस्त और बच्चे के साथ एक खातून भी थी। लेकिन दिल्ली पहुंचने से पहले ही दूसरी खातून उतर गई।

इसके बाद दिलीप और उसके दो दोस्तों ने खातून के साथ बारी-बारी आबरूरेज़ी की और उसके नकदी छीनकर कालकाजी के पास छोड़ दिया।

सड़क पर कुछ देर पड़ी रहने के बाद खातून ने होश में आने के बाद किसी तरह दिल्ली में रह रही अपनी दोस्त को फोन किया। दोस्त की मदद से खातून ने थाने में शिकायत दर्ज कराई। पुलिस के मुताबिक खातून के जिस्म पर चाकू के निशान पाए गए हैं।

TOPPOPULARRECENT