Saturday , March 25 2017
Home / Election 2017 / राजनीतिक दलों की कुल आय का 69 प्रतिशत अज्ञात स्रोतों से: एडीआर

राजनीतिक दलों की कुल आय का 69 प्रतिशत अज्ञात स्रोतों से: एडीआर

चुनाव सुधारों की दिशा में काम करने वाले एक गैर सरकारी संगठन द्वारा मंगलवार को जारी एक रिपोर्ट में कहा गया है कि 11 साल की अवधि में राजनीतिक दलों की कुल आय का 69 प्रतिशत अज्ञात स्रोतों से आया है।

एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) के मुताबिक, 2004-05 और 2014-15 के बीच में 48 राष्ट्रीय और क्षेत्रीय राजनीतिक दलों की कुल आय 11,367 करोड़ रुपये रही, जिसमें 7,833 करोड़ रुपये से ज़्यादा आय का स्रोत ज्ञात नहीं है।

एडीआर के संस्थापक सदस्य त्रिलोचन शास्त्री ने कहा, “इस आय में ज्ञात दाताओं से 1,835 करोड़ रुपये (16 फीसदी) मिले हैं जबकि 1,698 करोड़ रुपये (15 प्रतिशत) अन्य ज्ञात स्रोतों जैसे संपत्ति की बिक्री, सदस्यता शुल्क, बैंक ब्याज, बिक्री के प्रकाशनों और पार्टी लेवी के रूप में प्राप्त हुए थे.

“हालांकि, 7833 करोड़ रुपये की शेष आय, जो कुल आय का 69 प्रतिशत है, वह अज्ञात स्रोतों से है,” उन्होंने कहा।

एडीआर ने कहा कि अज्ञात स्रोतों से आमदनी वह है जिसे आयकर (आईटी) के रिटर्न में 20,000 रुपये से नीचे के दान के स्रोत के बिना घोषित किया जाता है।

एडीआर के संस्थापक सदस्य, जगदीप छोकर, ने कहा है कि काले धन पर अंकुश लगाने के लिए राजनीतिक दान में पारदर्शिता की लड़ाई बेहद जरूरी है।

“हमें राजनीतिक दलों को मिलने वाले दान के एक बड़े हिस्से के स्रोत के बारे में पता नहीं है, इससे काले धन के खिलाफ लड़ाई बड़ी मुश्किल हो जाती है. जब तक राजनितिक दान में पारदर्शिता नहीं आती तब तक कुछ नहीं हो सकता,” उन्होंने कहा।

रिपोर्ट के अनुसार अज्ञात स्रोतों से राष्ट्रीय दलों की आय 313 फीसदी बढ़कर वर्ष 2004-05 में 274 करोड़ रुपये से 2014-15 में 1,131 करोड़ रुपये हो गयी।

क्षेत्रीय पार्टियों के मामले में 652 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज हुयी है यह 11 साल में 37 करोड़ से बढ़कर 281 करोड़ रुपये हो गयी थी।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT