Sunday , August 20 2017
Home / Uttar Pradesh / राजनैतिक पार्टियों के चुनावी घोषणापत्र में पर्यावरण को शामिल करने पर जोर देने के लिए सीड ने लॉन्च किया100%यूपी कैंपेन

राजनैतिक पार्टियों के चुनावी घोषणापत्र में पर्यावरण को शामिल करने पर जोर देने के लिए सीड ने लॉन्च किया100%यूपी कैंपेन

लखनऊ  : सेंटर फॉर एनवायर्नमेंट एंड एनर्जी डेवलपमेंट (सीड) ने रविवार को लखनऊ में अपने सहयोगियों और स्थानीय सिविल सोसाइटी के सहयोग से 100% यूपी कैंपेन लॉन्च किया। 100% यूपी कैंपेन का मकसद रिन्यूएबल एनर्जी, स्वच्छ हवा, साफ पानी और वेस्ट मैनेजमेंट के सही तरीकों को सुनिश्चित करके राज्य में एक दीर्घकालिक स्वस्थ वातावरण तैयार करना है।

तेजी से बढ़ते हुए शहरीकरण और विकास ने यूपी में कई दिक्कतें खड़ी की हैं। इसमें सबसे महत्वपूर्ण है कि राज्य के हर हिस्से में प्रदूषण का स्तर बढ़ गया है। विश्व बैंक की रिपोर्ट के मुताबिक देश के सबसे 20 प्रदूषित शहरों में से चार यूपी के हैं। 2005 की एक रिपोर्ट के मुताबिक पूरे देश में यूपी से सबसे ज्यादा ग्रीन हाउस गैस उत्सर्जित होती है, जो देश के कुल उत्सर्जन का 14% है। ग्रामीण इलाकों के आठ करोड़ लोग और शहरी इलाकों के 50 लाख लोग अब भी बिना आधुनिक  बिजली के रह रहे हैं। सॉलिड वेस्ट का ठीक तरह से निस्तारण नहीं होने की वजह से जमीन, हवा और पानी की भी गुणवत्ता खराब हुई है।

100 % यूपी कैंपेन पर प्रकाश डालते हुए सीड की प्रोग्राम हेड मिस सुरभि शिखा ने बताया कि प्रदूषण का बढ़ा हुआ स्तर एक सच्चाई है। इसके लिए हमें बिना देर किए वातावरण को बचाने के लिए कुछ तात्कालिक बदलाव लाने होंगे। उन्होंने कहा कि हमारी हवा जहरीली हो रही है, पानी के स्रोत प्रदूषित हो रहे हैं। गलत वेस्ट मैनेजमेंट और उर्जा के लिए जीवाश्म ईंधनों पर निर्भरता ने इस समस्या को और भी बढाया है। इस कैंपेन का उद्देश्य 10 लाख लोगों तक पहुंचना है जिससे कि वो सिविल सोसाइटी समूहों के जरिए राजनैतिक पार्टियों से मांग कर सकें कि आने वाले 2017 के यूपी चुनाव में वो इस मुद्दे को अपने चुनावी घोषणा पत्र में शामिल करें।

आयोजन के दौरान डिस्कशन में हिस्सा लेते हुए पानी संस्थान के भारत भूषण ने जोर देते हुए बताया कि लखनऊ उत्तर प्रदेश की राजधानी होने के साथ ही जनसंख्या और क्षेत्रफल के हिसाब से प्रदेश का दूसरा सबसे बड़ा शहर है। पिछले कुछ वर्षों में इस शहर ने अप्रत्याशित विकास देखा है। हालांकि इस विकास के साथ ही लखनऊ हवा और पानी के बढ़े हुए प्रदूषण का भी गवाह बना है।  भूषण ने जोर दिया कि राजनैतिक पार्टियों को आने वाले चुनाव में अपने घोषणापत्र के बड़े हिस्से में पर्यावरणीय मुद्दों के समाधान को शामिल करना चाहिए।

100% यूपी कैंपेन एक ऐसा ऐक्शन कैंपेन है जो स्वच्छ वातावरण बनाने के लिए रिन्यूएबल एनर्जी के जरिए उर्जा की कमी पूरी करने, हवा की गुणवत्ता सुधारने के लिए एयर ऐक्शन प्लान बनाने, पानी के स्रोतों की सुरक्षा और वेस्ट मैनेजमेंट के सही तरीकों के लिए एक समग्र दृष्टिकोण दिखाना चाहता है। कैंपेन का मकसद 10 लाख लोगों तक पहुंचना है, जिससे वो आने वाले 2017 के विधानसभा चुनावों में साफ हवा, साफ पानी, साफ ऊर्जा और वेस्ट मैनेजमेंट को राजनैतिक पार्टियों के चुनावी घोषणापत्रों में शामिल करवाने में सहयोग करें।

100% यूपी कैंपेन पूरे प्रदेश में इवेंट आयोजित करेगा जिसमें ओपेन हाउस डिस्कशन होंगे, वर्कशॉप होंगीं, संसदीय चर्चाएं होंगी, नुक्कड़ नाटक होंगे और अन्य मीडिया इवेंट किए जाएंगे। इन कार्यक्रमों के जरिए यह कैंपेन अलग-अलग तरह के सिविल सोसाइटी ग्रुप, युवाओं के समूह, राजनेताओं, पत्रकारों और यूपी के नागरिकों से जुड़कर मांग रखेगा कि राजनैतिक पार्टियों को उनकी पर्यावरण संबंधी मांगें सुननी होंगी। 100% यूपी कैंपेन सीड के नेतृत्व में 350 से अधिक सिविल सोसाइटियों और केयर फॉर एयर का सामूहिक प्रयास है।

TOPPOPULARRECENT