Sunday , October 22 2017
Home / Hyderabad News / राजय के लोग एकता चाहते हैं और राजय कि तकसीम में हिस्सा नही ले रहे हैं

राजय के लोग एकता चाहते हैं और राजय कि तकसीम में हिस्सा नही ले रहे हैं

चंद क़ाइदीन की शख़्सी(नीजी) राय पर रद्द-ए-अमल नामुनासिब: शैलजा नाथ

चंद क़ाइदीन की शख़्सी(नीजी) राय पर रद्द-ए-अमल नामुनासिब: शैलजा नाथ
राजय मंत्री शैलजा नाथ ने कहा कि राजय कि अवाम मुत्तहिद रहने को तर्जीह दे रहे हैं, हाईकमान में भी राजय की तक़सीम की कोई सरगर्मी नहीं है। पार्टी के चंद क़ाइदीन की शख़्सी(नीजी) राय पर वो अपना रद्द-ए-अमल ज़ाहिर करना मुनासिब(सही) नहीं समझते। मुत्तहदा आंधरा प्रदेश के कट्टर हामी शैलजा नाथ ने कहा कि रियासत के अवाम मुत्तहदा रियासत के हामी हैं, सिर्फ मुट्ठी भर अवाम राजय की तक़सीम(बटवारे) का मुतालिबा कर रहे हैं। फ़ैसले से क़बल(पहले) कोंग्रेस हाईकमान रियासत के तीनों इलाक़ों के क़ाइदीन और अवाम से मुशावरत(विचार‌) करेगी और अक्सरीयती राय के पेशे नज़र फ़ैसला करेगी।

उन्हों ने कहा कि फ़ैसले से क़बल(पहले)राजय अवाम के अलावा पार्टी मुफ़ादात का भी जायज़ा लिया जाएगा।राजय और पार्टी के हक़ में जो मुनासिब होगा, वही फ़ैसला किया जाएगा। रॉयल तेलंगाना की तजवीज़ अचानक मंज़रे आम पर आने के सवाल का जवाब देते हुए उन्हों ने कहा कि ये कोई नई तजवीज़ नहीं है, बल्कि एक क़दीम मुतालिबा है। हाईकमान ने रियास्ती अवाम के सामने ऐसी कोई तजवीज़ नहीं पेश की, सिर्फ चंद क़ाइदीन उस की ताईद मुख़ालिफ़त कर रहे हैं, जिस पर किसी किस्म का रद्द-ए-अमल ज़ाहिर करना वो मुनासिब नहीं समझते। राजय में क़ियादत की तबदीली के बारे में पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए शैलजा नाथ ने कहा कि सदर प्रदेश कोंग्रेस कमेटी बी सत्य ना राव‌ना की वज़ाहत के बाद मज़ीद कुछ कहने की गुंजाइश नहीं रही। उन्हों ने बताया कि ज़िमनी इंतिख़ाबात(उपचुनाव‌) में पार्टी की शिकस्त का पार्टी जायज़ा ले रही है और पार्टी को मुस्तहकम करने के इक़दामात किए जा रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT