Friday , October 20 2017
Home / India / राजीव गांधी के क़ातिलों की रिहाई पर हुक्म अलतवा जारी

राजीव गांधी के क़ातिलों की रिहाई पर हुक्म अलतवा जारी

सुप्रीम कोर्ट ने आज राजीव गांधी क़त्ल मुक़द्दमे के 3मुजरिमों की हुकूमत तमिलनाडु की जानिब से रिहाई पर हुक्म अलतवा जारी कर दिया और कहा कि इस कार्रवाई में रियासती हुकूमत की जानिब से इख़तेयार करदा तरीका-ए-कार में कोताहियां पाई जाती ह

सुप्रीम कोर्ट ने आज राजीव गांधी क़त्ल मुक़द्दमे के 3मुजरिमों की हुकूमत तमिलनाडु की जानिब से रिहाई पर हुक्म अलतवा जारी कर दिया और कहा कि इस कार्रवाई में रियासती हुकूमत की जानिब से इख़तेयार करदा तरीका-ए-कार में कोताहियां पाई जाती हैं। अदालत ने मुजरिमों की रिहाई पर हुक्म अलतवा जारी कर दिया।

कार्रवाई मर्कज़ी हुकूमत की सुप्रीम कोर्ट से दरख़ास्त नज़रेसानी पर की गई। बेंच‌ ने मुजरिमों को नोटिस जारी किया और उन से ख़ाहिश की कि वो अंदरून दो हफ़्ते जवाब-ए-दावा पेश करें। बेंच‌ ने कहा कि सज़ाए मौत की सज़ाए उम्र क़ैद में तबदीली का ख़ुदकार नतीजा उन की रिहाई नहीं होसकता इस के लिए क़ानून की जानिब से मुक़र्ररा तरीका-ए-कार की पाबंदी ज़रूरी है।

बेंच‌ ने मुक़द्दमे की आइन्दा समाअत 6 मार्च को मुक़र्रर की है। हुकूमत तमिलनाडु को भी बेंच‌ की जानिब से नोटिस जारी की गई। मौसूला इत्तेलाआत के बमूजब राजीव गांधी क़त्ल मुक़द्दमे के तमाम 7 मुजरिमों की रिहाई के हुकूमत तमिलनाडु के फ़ैसले पर हुक्म अलतवा की ख़ाहिश करते हुए मर्कज़ी हुकूमत आज सुप्रीम कोर्ट से रुजू होगई जिस ने दरख़ास्त की फ़ौरी समाअत से इत्तेफ़ाक़ करलिया और कहा कि मुक़द्दमे की समाअत आज ही की जाएगी।

चीफ़ जस्टिस पी. सदाशिवम की ज़ेर-ए-क़ियादत बेंच‌ के इजलास पर पेश होकर सॉलीसिटर जनरल मोहन प्रसारण ने दरख़ास्त की कि रियासती हुकूमत के फ़ैसले पर हुक्म अलतवा जारी किया जाये और हुकूमत को उस वक़्त तक क़ैदीयों को रिहा करने की इजाज़त ना दी जाये जब तक कि सुप्रीम कोर्ट सज़ाए मौत को सज़ाए उम्र क़ैद में तबदील करने के सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसलों पर दरख़ास्त नज़रेसानी का फ़ैसला ना होजाए।

सुप्रीम कोर्ट ने रहम की दरख़ास्तों के फ़ैसले में ताख़ीर की बुनियाद पर सज़ाए मौत याफ़ता तीन क़ैदीयों की सज़ा को तबदील करके उसे उम्र क़ैद कर दिया था। मुख़्तसर सी समाअत के बाद बेंच‌ ने इत्तेफ़ाक़ किया कि मुक़द्दमा तफ़सील तलब है और उस की समाअत 12.40 बजे दिन मुक़र्रर करदी।

जया ललीता हुकूमत ने कल फ़ैसला किया था कि राजीव गांधी क़त्ल मुक़द्दमे के तमाम 7 मुजरिमों को आज़ाद कर दिया जाये जबकि सुप्रीम कोर्ट ने इन में से 3 की सज़ाए मौत को सज़ाए उम्र क़ैद में तबदील कर दिया है। तमिलनाडु हुकूमत ने तीन दिन की क़तई आख़िरी मोहलत मुक़र्रर की है और मर्कज़ से 7 मुजरिमों की रिहाई के बारे में वज़ाहत तल्ब की है।

टाडा की अदालत ने जनवरी 1998 में 3क़ातिलों को सज़ाए मौत सुनाई थी जिस की तौसीक़ 11 मई 1999 को सुप्रीम कोर्ट ने भी की थी लेकिन अब मुजरिमों की दरख़ास्त रहम की यकसूई में ताख़ीर की बुनियाद पर उनकी सज़ाए मौत को सज़ाए उम्र क़ैद में तबदील कर दिया है।

TOPPOPULARRECENT