Monday , August 21 2017
Home / Delhi News / रामकिशन का आखिरी फोन: बेटा मैं उसूलों का पक्का हूं, सेना के हक लिए मैंने सल्फास की गोली खा ली

रामकिशन का आखिरी फोन: बेटा मैं उसूलों का पक्का हूं, सेना के हक लिए मैंने सल्फास की गोली खा ली

नई दिल्ली: वन रैंक वन पेंशन की सिफारिशों में कथित अनियमितताओं को लेकर दिल्ली के जंतर-मंतर पर सूइसाइड करने वाले पूर्व सैनिक रामकिशन ग्रेवाल ने सल्फास की गोली खाने के बाद अपने बेटे को आखिरी कॉल किया था।

राम किशन ग्रेवाल ने जहर खाने के बाद फोन पर अपने बेटे से कहा था कि मैं अपने उसूलों का पक्का आदमी हूं। मैं अब सूसाइड करने जा रहा हूं। क्योंकि सरकार वन रैंक वन पेंशन पर हमारी मांगों को पूरा नहीं कर रही है। फोन पर जब उनके बेटे ने कहा कि पापा आप यह युद्ध हार गए तो उन्होंने कहा कि तू रहने दे, अपनी मां को फोन दे। फिर उनका बेटा फफक कर रोने लगते हैं।  रामकिशन ग्रेवाल हरियाणा के भिवानी जिले के रहने वाले थे। वो सेना से सूबेदार पद से रिटायर्ड हुए थे।

TOPPOPULARRECENT