Sunday , October 22 2017
Home / Uttar Pradesh / रामगढ़ में लोगों ने खुद से हटाये मस्जिद-मंदिर

रामगढ़ में लोगों ने खुद से हटाये मस्जिद-मंदिर

रामगढ़ के लोगों ने इतवार को भाईचारे की मिसाल पेश की। दोनों फ़रीक़ के लोगों ने खुद से कांकेबार में एनएच-33 पर फोर लेन सड़क तामीर के दरमियान में आ रहे काली मंदिर व नूरी मसजिद को हटा लिया। इसके साथ गुजिशता कई महीनों से चला आ रहा तनाज़ा खत्म

रामगढ़ के लोगों ने इतवार को भाईचारे की मिसाल पेश की। दोनों फ़रीक़ के लोगों ने खुद से कांकेबार में एनएच-33 पर फोर लेन सड़क तामीर के दरमियान में आ रहे काली मंदिर व नूरी मसजिद को हटा लिया। इसके साथ गुजिशता कई महीनों से चला आ रहा तनाज़ा खत्म हो गया। इतवार को दिन के तकरीबन 11 बजे दोनों फरीक के लोग कांकेबार पहुंचे और खुद अपने-अपने मजहबी मुकामात को हटाना शुरू किया।

इससे पहले मजहबी रवायतों के मुताबिक मंदिर के लिए पूजा किये गये। बाद में मजहबी मुकाम के बचे समान को जेसीबी मशीन से हटा दिया गया। लोगों ने रवायतों के साथ काली की मूर्ति को गाड़ी पर रख कर जुलूस के साथ दामोदर नदी में उसे विसजिर्त कर दिया। वहीं मजहबी मुकाम को हटाने के बाद मुसलिम तबके के लोगों ने बताया कि जब तक कोई दूसरी निज़ाम नहीं हो जाती, तब तक कांकेबार के रहने वाले सज्जाद खान के घर पर पांच वक्त की नमाज अदा की जायेगी।

भारी तादाद में पुलिस फोर्स

कांकेबार मे भारी तादाद में फोर्स तैनात थी। मजिस्ट्रेट आसफ अली व सीओ ललन कुमार मौजूद थे। पुलिस की कियादत एसडीपीओ अशोक कुमार, हेड क्वार्टर डीएसपी मंजरूल होदा कर रहे थे। एसडीओ दिलेश्वर महतो, डीएसओ संजय कुमार, मजिस्ट्रेट मनमोहन प्रसाद पूरी हालत पर नज़र रखे हुए थे। डीसी अबू इमरान व एसपी रंजीत कुमार प्रसाद मुसलसल हालात की जानकारी ले रहे थे।

TOPPOPULARRECENT