Monday , August 21 2017
Home / India / सिनेमाघरों में राष्ट्रगान गाकर हमें साबित करने की जरूरत नहीं की हम देशप्रेमी हैं

सिनेमाघरों में राष्ट्रगान गाकर हमें साबित करने की जरूरत नहीं की हम देशप्रेमी हैं

केरल: कल केरल के कुछ सिनेमाघरों में कुछ लोगों ने राष्ट्रगान के दौरान खड़े होने से इनकार कर दिया तो पुलिस ने इस मामले में 12 लोगों को हिरासत में ले लिया और बाद में जमानत पर छोड़ दिया गया है। पुलिस ने बताया कि इन लोगों के खिलाफ इंडियन पीनल कोड की धारा 188 सरकारी कर्मचारी द्वारा अधिसूचित आदेश का पालन न करने के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है।

इसके विरोध में आज लोगों के एक समूह ने सिनेमाघरों जहाँ इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल का प्रदर्शन किया जा रहा था वहां विरोध प्रदर्शन किया। जहाँ प्रदर्शनकारियों ने हाथ में तख्ती पकड़ी हुई थी जिसपर लिखा हुआ था ‘राष्ट्रगान कोई डिजिटल गीत नहीं है। राष्ट्रीय ध्वज ऑडियो विजुअल नहीं है। ‘कृपया हमारे राष्ट्रगान का दर्जा ना घटाएं।’ प्रदर्शनकारियों का कहना था कि लोग मनोरंजन के तौर पर सिनेमाघरों में फिल्म देखने आते हैं न की ये बताने की हमें भारत से प्यार है या नहीं। लोगों पर इस तरह से राष्ट्रवाद को थोपा तो नहीं जा सकता।

TOPPOPULARRECENT