Thursday , August 24 2017
Home / Delhi News / राष्ट्रपति चुनाव में बीजेपी को क्रोस वोटिंग का डर, कांग्रेस ने कसी कमर

राष्ट्रपति चुनाव में बीजेपी को क्रोस वोटिंग का डर, कांग्रेस ने कसी कमर

नई दिल्ली। चुनाव आयोग ने राष्ट्रपति चुनाव के लिए तारीखों की घोषणा कर दी है, जिसके बाद भाजपा की एनडीए और विपक्ष ने अपने-अपने दावेदाराें का चुनाव करने की प्रकिया शुरू कर दी है। राष्ट्रपति पद के चुनाव में भाजपा की अगुआई वाले एनडीए का पलड़ा विपक्ष की तुलना में भारी नजर आ रहा है।

लेकिन अगर क्रॉस वोटिंग हुई तो समीकरण बिगड़ सकते हैं। दरअसल, मौजूदा समय में भले ही भाजपा ने राष्ट्रपति चुनाव में एनडीए उम्मीदवार की जीत तय करने के लिए अन्नाद्रमुक के दोनों धड़ों के अलावा तेलंगाना में सत्ताधारी टीआरएस को अपने पाले में कर लिया है लेकिन इसके बावजूद सत्ता व विपक्ष के रणनीतिकार उन कमजोर कडिय़ों को दुरुस्त करने में लगे हैं जिनसे क्रॉस वोटिंग की आशंकाएं बढ़ सकती हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी स्वयं विपक्ष की ओर से राष्ट्रपति चुनाव की तैयारियों को देख रही हैं। उन्हाेंने राष्ट्रपति उम्मीदवार तय करने के लिए शरद पवार काे विपक्षी दलों का कोऑर्डिनेटर बनाया है। पवार को यह दायित्व सौंपे जाने की सबसे अहम वजह यह है कि शिवसेना व भाजपा के बीच राष्ट्रपति उम्मीदवार को लेकर तकरार पैदा हाे सकती है।

महाराष्ट्र में दोनों का गठबंधन है लेकिन शिवसेना को अगर मोदी सरकार की पसंद नागवार गुजरी तो वह विरोध करने से पीछे नहीं हटेगी। शिवसेना के शरद पवार के साथ मधुर रिश्ते हैं।

TOPPOPULARRECENT