Wednesday , June 28 2017
Home / Delhi News / राष्ट्रपति पर आमसहमति के लिए कांग्रेस- बीजेपी की नहीं बनी बात

राष्ट्रपति पर आमसहमति के लिए कांग्रेस- बीजेपी की नहीं बनी बात

नई दिल्ली। सरकार और विपक्ष के बीच 17 जुलाई को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव को लेकर आज हुई पहली बैठक बेनतीजा रही क्योंकि दोनों पक्षों की ओर से किसी नाम पर चर्चा नहीं हुई। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया के साथ आज भाजपा के दो वरिष्ठ नेताओं राजनाथ सिंह एवं एम वेंकैया नायडू की करीब चालीस मिनट तक बैठक हुई।

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने राजनाथ, नायडू और केन्द्रीय मंत्री अरुण जेटली की सदस्यता वाली तीन सदस्यीय समिति बनाई थी ताकि राष्टपति उम्मीदवार को लेकर विपक्षी दलों के साथ बातचीत की जा सके।

राष्टपति चुनाव के बारे में विचार-विमर्श के लिए आयोजित इस बैठक में लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे और राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद मौजूद थे। राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव 17 जुलाई को होगा।

बैठक के बाद आजाद ने संवाददाताओं को बताया कि सरकार ने राष्ट्रपति उम्मीदवार के लिए कोई नाम नहीं बताया। उन्होंने कहा कि भाजपा नेताओं ने कांग्रेस से ही कोई नाम बताने को कहा। आजाद ने कहा कि जब तक सरकार नाम नहीं बतायेगी, चर्चा कैसे हो सकती है। खड़गे ने कहा कि सरकार द्वारा राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार का नाम बताने पर ही कांग्रेस अन्य विपक्षी दलों के साथ उस पर चर्चा करेगी।

बता दें कि केंद्र सरकार चाहती है कि नए राष्ट्रपति का चुनाव सभी पक्षों की आम सहमति से हो। वहीं इस मुलाकात से पहले कयास लगाए जा रहे थे कि सोनिया भाजपा को इस चर्चा के दौरान क्या जवाब देंगी लेकिन जिस तरह से मीटिंग जल्द निपट गई उससे जाहिर होता है कि न तो भाजपा और न ही कांग्रेस एक-दूसरे को सहयोग देने के मूड में है।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT