Wednesday , August 23 2017
Home / Kashmir / राष्ट्रीयगान केवल सिनेमाघरों में ही क्यों, संसद में क्यों नहीं: उमर अब्दुल्ला

राष्ट्रीयगान केवल सिनेमाघरों में ही क्यों, संसद में क्यों नहीं: उमर अब्दुल्ला

श्रीनगर: सिनेमाघरों में फिल्म से पहले राष्ट्रीय गान बजाय जाने के सुप्रीम कोर्ट के हाल के फैसले पर जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने कहा कि केवल सिनेमाघरों में ही क्यों, संसद, विधानसभाओं और अदालतों में राष्ट्रीय गान क्यों नहीं बजाया जाना चाहिए.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

प्रदेश 18 के अनुसार, श्री अब्दुल्ला ने ट्वीट कर कहा, ‘बहस का मुद्दा यह नहीं है, निश्चित रूप से हम राष्ट्रीय गान का सम्मान करते हैं. सवाल यह है कि केवल सिनेमाघरों में ही क्यों, संसद में दैनिक क्यों नहीं?

श्री अब्दुल्ला का यह ट्वीट कांग्रेस नेता मनीष तिवारी के ट्वीट के जवाब में आया है. कांग्रेस नेता ने ट्वीट किया था, ‘राष्ट्रीय गान पर सुप्रीम कोर्ट के आदेश की आलोचना पर हैरान हूँ. अगर भारतीय ही अपने राष्ट्रीय गान के सम्मान में नहीं उठेंगे तो क्या पाकिस्तानी उठेंगे.’
श्री अब्दुल्ला ने सवालिया लहजे में कहा कि क्यों केवल सनिमाओं को देशभक्ति के सबक की जरूरत है? क्यों नहीं उन्हें अदालतों में दैनिक बजाया जाए.

TOPPOPULARRECENT