Saturday , October 21 2017
Home / Hyderabad News / राहुल गांधी परा अन्ना हज़ारे की तन्क़ीद से नौजवान नसल ब्रहम

राहुल गांधी परा अन्ना हज़ारे की तन्क़ीद से नौजवान नसल ब्रहम

हैदराबाद 13 दिसंबर : ( सियासत न्यूज़ ) : सैक्रेटरी ए आई सी सी-ओ-रुकन राज्य सभा मिस्टर वे हनुमंत राव ने अन्ना हज़ारे की जानिब से नौजवान क़ाइद राहुल गांधी कोतन्क़ीद का निशाना बनाने की मुज़म्मत करते हुए हदूद पार ना करने का मश्वरा दिया ।

हैदराबाद 13 दिसंबर : ( सियासत न्यूज़ ) : सैक्रेटरी ए आई सी सी-ओ-रुकन राज्य सभा मिस्टर वे हनुमंत राव ने अन्ना हज़ारे की जानिब से नौजवान क़ाइद राहुल गांधी कोतन्क़ीद का निशाना बनाने की मुज़म्मत करते हुए हदूद पार ना करने का मश्वरा दिया । आज पार्लीमैंट के बाहर मीडीया से बातचीत करते हुए मिस्टर वे हनुमंत राव ने कहा कि कांग्रेस पार्टी बिलख़सूस सोनीया गांधी बदउनवानीयों के ख़िलाफ़ हैं बदउनवानीयों में मुलव्वस रहने वाले दो मर्कज़ी वुज़रा और एक हलीफ़ जमात की रुकन पार्लीमैंट को जेल भेज देना इस का सबूत है । अन्ना हज़ारे की जानिब से बदउनवानीयों के ख़िलाफ़ चलाई जाने वाली मुहिम का कांग्रेस पार्टी एहतिराम करती है मज़बूत लोक पाल बिल पार्लीमैंट में पेश करने की मसाई कररही है ।

मुसव्वदा बल की तैय्यारी के लिए जो कमेटी तशकील दी गई थी इस में टीम अन्ना के हामीयों को भी शामिल किया गया था मुल्क में हज़ार सिविल सोसाइटीज़ हैं फिर भी मर्कज़ी हुकूमत की जानिब से अन्ना हज़ारे और उन की टीम को एहमीयत दी जा रही है लेकिन अन्ना हज़ारे और उन की टीम रोज़ बरोज़ मर्कज़ी हुकूमत वज़ीर-ए-आज़म के इलावा दूसरों को तन्क़ीद का निशाना बना रही है इस मुआमले में ग़ैर ज़रूरी राहुल गांधी को घसीटा जा रहा है जब कि मर्कज़ी हुकूमत से राहुल गांधी का कोई ताल्लुक़ नहीं है । ना ही वो मर्कज़ी वज़ीर हैं और ना ही मुसव्वदा बिल तैय्यार करनेवाली कमेटी के रुकन हैं ।

सिर्फ ए आई सी सी के जनरल सैक्रेटरी हैं उन्हें तन्क़ीद का निशाना बनाते हुए मलिक के नौजवानों को ब्रहम किया जा रहा है और बी जे पी-ओ-दूसरी फ़िकारपरस्त तंज़ीमों से हाथ मिलाते हुए कांग्रेस के ज़ेर क़ियादत यू पी ए को तन्क़ीद का निशाना बनाया जा रहा है । अगर बल पर कोई एतराज़ है तो अन्ना हज़ारे अपने ताईदी जमातों के अरकान-ए-पार्लीमैंट को पार्लीमैंट में मुबाहिस करने और तामीरी तजावीज़ पेश करने की हिदायत दें । राहुल गांधी ख़िदमात पर ओहदों को क़ुर्बान करते हुए देहातों का दौरा कररहे हैं देही मसाइल ग़रीबऔर पसमांदा तबक़ात के मसाइल को उजागर कररहे हैं उन के ख़िलाफ़ जो मुहिम छेड़ी जा रही है वो टीम अन्ना को महीनगी पड़ेगी । नौजवान नसल बग़ावत पर मजबूर होजाएगी ।।

TOPPOPULARRECENT