Wednesday , October 18 2017
Home / Hyderabad News / रियासत में कुरप्शन के मुआमलात में चंद्रा बाबू नायडू सर-ए-फ़हरिस्त

रियासत में कुरप्शन के मुआमलात में चंद्रा बाबू नायडू सर-ए-फ़हरिस्त

हैदराबाद 15 नवंबर (सियासत न्यूज़ ) तेलंगाना राष़्ट्रा समीती ने हाइकोर्ट की जानिब से सदर तेलगुदेशम चंद्रा बाबू नायडू के असासा जात की तहक़ीक़ात की हिदायत का ख़ैर मक़द्दम किया है । पार्टी ने कहा कि कुरप्शन से पाक समाज केलिए जद्द-ओ-जहद का

हैदराबाद 15 नवंबर (सियासत न्यूज़ ) तेलंगाना राष़्ट्रा समीती ने हाइकोर्ट की जानिब से सदर तेलगुदेशम चंद्रा बाबू नायडू के असासा जात की तहक़ीक़ात की हिदायत का ख़ैर मक़द्दम किया है । पार्टी ने कहा कि कुरप्शन से पाक समाज केलिए जद्द-ओ-जहद का दावे करने वाले चंद्रा बाबू नायडू के लिए ये बेहतरीन मौक़ा हैका वो अपनी दियानतदारी और ईमानदारी को साबित करें ।

पार्टी तर्जुमान जगदीश रेड्डी और डाक्टर श्रावण ने मीडीया के नुमाइंदों से बातचीत करते हुए हाइकोर्ट के फ़ैसले का ख़ैर मुक़द्दम किया है । जिस में सी बी आई को हिदायत दी गई है का वो अंदरून तीन माह चंद्रा बाबू नायडू के असासा जात के बारे में अपनी तहक़ीक़ाती रिपोर्ट अदालत को पेश करे । उन क़ाइदीन ने कहा कि चंद्रा बाबू नायडू को इस तहक़ीक़ात का ख़ैर मुक़द्दम करते हुए सामना करना चाहीए । जगदीश रेड्डी ने कहा कि चंद्रा बाबू नायडू जो बद उनवानियों और कुरप्शन से पाक होने का दावे करते हैं उन्हें चाहीए कि वो सी बी आई तहक़ीक़ात से तआवुन करें और अपनी दियानतदारी साबित करें ।

उन्हों ने कहा कि अदालत के फ़ैसले के ख़िलाफ़ सुप्रीम कोर्ट से रुजू होने की तजवीज़ अफ़सोसनाक है । नायडू को चाहीए कि वो हाइकोर्ट के फ़ैसले के ख़िलाफ़ सुप्रीम कोर्ट से रुजू ना हूँ और तहक़ीक़ात का सामना करते हुए अवाम के दरमयान क्लीनचिट हासिल करें। टी आर ऐस क़ाइदीन ने कहा कि तहक़ीक़ात से चंद्रा बाबू नायडू का हक़ीक़ी चेहरा सामने आजाएगा । उन्हों ने कहा कि साबिक़ में भी अदालत ने नायडू के असासा जात की तहक़ीक़ात का हुक्म दिया था लेकिन उन्हों ने इस फ़ैसला के ख़िलाफ़ हुक्म अलतवा हासिल करलिया ।

टी आर ऐस क़ाइदीन ने इल्ज़ाम आइद किया कि रियासत में कुरप्शन और बेनामी असासा जात के मुआमला में चंद्रा बाबू नायडू सर-ए-फ़हरिस्त है उन के दौर-ए-हकूमत में बे क़ाईदगीयाँ और बद उनवानियों उरूज पर थीं और कुरप्शन का दूसरा नाम चंद्रा बाबू नायडू पड़ चुका था । तहलका ने भी चंद्रा बाबू नायडू के असासा जात के बारे में तफ़सीलात जारी की थी । टी आर ऐस क़ाइदीन ने अना हज़ारे की मुहिम को चंद्रा बाबू नायडू की ताईद को मज़हकाख़ेज़ क़रार दिया और कहा कि जो ख़ुद कुरप्शन में मुलव्वस हो वो किस तरह अना हज़ारे की मुहिम की ताईद करसकता है ।

टी आर ऐस क़ाइदीन ने मुतालिबा किया कि नायडू पार्टी ऑफ़िस से अना हज़ारे की तस्वीर निकाल दें क्योंकि ये अना हज़ारे की तौहीन के मुतरादिफ़ है । उन्हों ने कहा कि हाइकोर्ट की हिदायत पर सी बी आई तहक़ीक़ात से नायडू का हक़ीक़ी चेहरा सामना आजाएगा । उन्हों ने इल्ज़ाम आइद किया कि चंद्रा बाबू नायडू दौर-ए-हकूमत में आराज़ीयात के अलाटमैंट और दीगर मुआमलात में कई बे क़ाईदगीयाँ हुई हैं । अब जबकि सी बी आई को तहक़ीक़ात की हिदायत दी गई है लिहाज़ा रियासत के अवाम नायडू की बे क़ाईदगियों से वाक़िफ़ होजाएंगे ।

TOPPOPULARRECENT