Wednesday , September 20 2017
Home / Jharkhand News / रियासत में जल्द ही 50 हजार ओहदे की तकर्रुरी : वजीरे आला

रियासत में जल्द ही 50 हजार ओहदे की तकर्रुरी : वजीरे आला

रांची : दारुल हुकूमत के मोरहाबादी मैदान में मुनक्कीद तकरीब को खिताब करते हुए वजीरे आला रघुवर दास ने कहा कि रियासत हुकूमत 50 हजार ओहदे पर जल्द तकर्रुरी करेगी। कई महकमा में तकर्रुरी की अमल आखरी मरहले में है। वजीरे आला ने कहा बेरोजगारों को रोजगार देना हुकूमत की तर्जीह है। रियासत में 400 डॉक्टरों की तकर्रुरी अमल आखिरी मरहले में है। आमदनी और ज़मीन बेहतरी महकमा में डिवीज़नल इंस्पेक्टर , आमदनी मुलाज़िम व लिपिकों के 2072 ओहदे पर बहाली भी जल्द होनेवाली है। 1110 जूनियर इंजनियार, 2204 जंगलों के हिफाजत के लिए वोलांटियर, प्रॉडक्शन महकमा में 538, सेक्रेट्रिएट असिस्टेंट के 114, सिपाही के 6279 और झारखंड पुलिस फोर्स में तकर्रुरी अमल पूरी होनेवाली है।

वजीरे आला ने कहा कि हमारे नौजवान ज़िंदगी की राह भूल रहे हैं। गुमराह हो जा रहे हैं। उनको असलाह पकड़ाया जा रहा है। असलाह से निजाम नहीं बदल सकती है। उनको समाज की मेन स्ट्रीम में आना चाहिए। रियासत को बदउनवान से आज़ाद बनाया जायेगा। हरेक डिवीज़नल हेड क्वार्टर में बदउनवान एंटी ब्यूरो का दफ्तर सरगर्म होगा। रिटायर्ड़ होनेवाले मुलाज़िम के लिए नयी सहूलत “जीवन प्रमाण” शुरू की जा रही है। इसके तहत मुल्क के किसी भी कोने में बायोमेट्रिक के जरिये से वे ज़िंदा होने का सुबूत दे सकेंगे। सीएम ने कहा कि पलामू और गढ़वा जिलों में सूखे की मसला से निपटने के लिए सोन नदी के पानी को पाइप से लाने की कोशिश किया जा रहा है। रियासत में तकनीकी यूनिवर्सिटी की क़याम की जा रही है। इससे आला व तकनीकी तालीम को एक रफ़्तार मिलेगी। रियासत में सरमायाकारी को बढ़ावा देने के लिए सिंगल विंडो सिस्टम को बढ़ावा दिया जा रहा है। रियासत में महकमा की तादाद 43 से घटा कर 31 कर दी गयी है। इससे फैसले लेने की अमल आसान होगी। सरकारी खर्च में भी कमी अायेगी। स्वच्छ भारत मिशन (देही) के तहत कुल 95,465 ज़ाती बाइतुल खुला की तामीर किया गया है। इससे छह लाख आबादी काे फायदा मिलेगा।

TOPPOPULARRECENT