Saturday , October 21 2017
Home / District News / रियासत में बर्क़ी बोहरान के लिए साबिक़ा हुकूमतें ज़िम्मेदार

रियासत में बर्क़ी बोहरान के लिए साबिक़ा हुकूमतें ज़िम्मेदार

तेलंगाना हुकूमत रियासत की तरक़्क़ी के लिए शब-ओ-रोज़ सरगर्म कोशां है। पेशरू हुकूमतें सिर्फ़ और सिर्फ़ अपने इलाक़ों की तरक़्क़ी के लिए कोशिशें कीं जिस की वजह से तेलंगाना नाइंसाफ़ी का शिकार होगया।

तेलंगाना हुकूमत रियासत की तरक़्क़ी के लिए शब-ओ-रोज़ सरगर्म कोशां है। पेशरू हुकूमतें सिर्फ़ और सिर्फ़ अपने इलाक़ों की तरक़्क़ी के लिए कोशिशें कीं जिस की वजह से तेलंगाना नाइंसाफ़ी का शिकार होगया।

जी जगदीश रेड्डी रियासती वज़ीर-ए-ताअलीम तेलंगाना ने मुख़्तलिफ़ पार्टीयों के क़ाइदीन की टी आर एस में शमूलीयत के बाद मुनाक़िदा मीटिंग से ख़िताब करते हुए इन ख़्यालात का इज़हार किया।

उन्होंने कहा कि बरसों हुकूमत पर फ़ाइज़ रहने वाले तेलंगाना की चार माह की हुकूमत पर बेजा तन्क़ीदें कर रहे हैं। उन्होंने कांग्रेस-ओ-तेलुगु देशम पर तन्क़ीद करते हुए कहा कि रियासत में बर्क़ी बोहरान के लिए ये दोनों जमातें बराबर के ज़िम्मेदार हैं।

उन्होंने कहा कि तेलंगाना को तरक़्क़ी देना ,गरबा की ज़िंदगी को मयारी सतह पर लाना और हुकूमत की इस्कीमात-ओ-मुराआत को हक़ीक़ी मुस्तहक़्क़ीन तक पहूँचाना वज़ीर-ए-आला के सी आर का अव्वलीन तर्जीह है।

जी जगदीश रेड्डी ने एन चंद्रबाबू नायडू को तन्क़ीद का निशाना बनाते हुए कहा कि नायडू के दौरे हुकूमत में ही सब से ज़्यादा किसानों ने ख़ुदकुशी की। उन्होंने किसानों के नाम पर बस यात्रा और बर्क़ी मसले पर टी आर एस हुकूमत पर तन्क़ीद करने वालों का मुज़हका उड़ाया।

उन्होंने कहा कि पेशरू हुकूमतों के क़ाइदीन को तेलंगाना हुकूमत पर तन्क़ीद का अख़लाक़ी हक़ नहीं है। तन्क़ीद के बजाये वो अपने ग़रेबानों में देखें कि उन्होंने तेलंगाना के लिए किया कारनामा अंजाम दिया है।

TOPPOPULARRECENT