Tuesday , October 24 2017
Home / Hyderabad News / रियासत में बर्क़ी बोहरान मज़ीद शिद्दत इख़तियार कर जाएगा

रियासत में बर्क़ी बोहरान मज़ीद शिद्दत इख़तियार कर जाएगा

हैदराबाद 11 जनवरी: रियासत में आइन्दा दिनों में संगीन बर्क़ी बोहरान का अंदेशा है क्योंके रियासत में यौमिया 280 मुलैयन यूनिट्स या इस से ज़ाइद बर्क़ी दरकार है लेकिन फ़िलवक़्त 220 मिलियन यूनिट्स के ज़रीया ज़रूरीयात की तकमील की जा रही है । इस तरह 6

हैदराबाद 11 जनवरी: रियासत में आइन्दा दिनों में संगीन बर्क़ी बोहरान का अंदेशा है क्योंके रियासत में यौमिया 280 मुलैयन यूनिट्स या इस से ज़ाइद बर्क़ी दरकार है लेकिन फ़िलवक़्त 220 मिलियन यूनिट्स के ज़रीया ज़रूरीयात की तकमील की जा रही है । इस तरह 60 मिलियन यूनिटस बर्क़ी की कमी है लेकिन आइन्दा चंद दिनों में बर्क़ी की तलब में मज़ीद इज़ाफे की वजह से बर्क़ी की मूसिर सरबराही मुम्किन नहीं होगी । लिहाज़ा आइन्दा दिनों के दौरान बर्क़ी का बोहरान मज़ीद संगीन होसकता है । ए पी ट्रांस्को के ज़राए ने ये बात बताई ।

इसी दौरान हीरालाल समारिया , मनीजिंग डायरेक्टर ट्रांस्को ने अख़बारी नुमाइंदों से ग़ैर रस्मी बातचीत करते हुए बताया कि फ़िलवक़्त रियासत में बर्क़ी की मूसिर सरबराही को यक़ीनी बनाने 1300 मैगावाट बर्क़ी ख़रीदी जा रही है ।

आइन्दा दिनों में बर्क़ी की मज़ीद ज़रूरत होगी । लिहाज़ा मज़ीद 600 मैगावाट बर्क़ी ख़रीदी के लिए इक़दामात किए जाऐंगे । उन्हों ने कहा कि माह फ़बरोरी के दौरान रियासत के लिए यौमिया 315 ता 320 मिलियन यूनिट्स बर्क़ी दरकार होगी और माह अप्रैल में जब ज़रई सरगर्मीयां ख़त्म होंगी तो बर्क़ी के इस्तिमाल में कमी वाक़्य होगी लेकिन शदीद गर्मा के पेशे नज़र घरेलू बर्क़ी के इस्तिमाल में इज़ाफ़ा होगा ।

लिहाज़ा जो बर्क़ी ज़रई अग़राज़ के लिए सरबराह की जाती थी वो बचने के बावजूद बर्क़ी के इस्तिमाल में इज़ाफ़ा होगा । उन्हों ने बताया कि फ़िलवक़्त सनअतों के लिए बर्क़ी सरबराही में 40 फ़ीसद कटौती की जा रही है और सिर्फ़ 60 फ़ीसद बर्क़ी ज़रूरीयात की ही सनअती शोबे के लिए तकमील की जा रही है ।

इस के अलावा मौजूदा हालात के पेशे नज़र ज़िला मुस्तक़र पर घरेलू सारिफ़ीन के लिए मुंसीपाल कारपोरेशन हदूद में रोज़ाना सिर्फ़ एक घंटा कटौती की जा रही है और मंडल मुस्तक़र पर 6 घंटे कटौती की जा रही है ।

ज़रई शोबा के लिए 7 घंटे बर्क़ी की फ़राहमी के लिए इक़दामात किए जा रहे हैं । उन्हों ने कहा कि गुज़शता साल के मुक़ाबले में गैस की सरबराही इतमीनान बख़श नहीं है । अलावा अज़ीं हाईडल बर्क़ी पैदावार में पिछ्ले दिनों में पानी का ज़ख़ीरा ना किए जाने के बाइस काफ़ी कमी वाक़्य हुई है ।

उन्हों ने कहा कि ए पी ट्रांस्को आइन्दा दिनों में बर्क़ी सरबराही के मसाइल का तदारुक करने क़बल अज़ वक़्त इक़दामात करने की ज़रूरत है इसी के पेशे नज़र 16,000 हज़ार करोड़ रूपियों के मसारिफ़ पर मुश्तमिल री स्ट्रकचर प्लान मुरत्तिब किया गया है जिस में 50 फ़ीसद रक़ूमात हुकूमत को बर्दाश्त करना पड़ता और 25 फ़ीसद मर्कज़ से हासिल होंगे ।

मज़ीद रक़ूमात क़र्ज़ हासिल किए जाऐंगे । उन्हों ने कहा कि हुकूमत की पालिसी के मुताबिक़ ज़ाइदाज़ 30 लाख बर्क़ी ज़रई मोटर पंप सैटस को सात घंटे मुफ़्त बर्क़ी सरबराह की जा रही है और दिसमबर तक जुमला 79953 नए एग्रीकल्चर बर्क़ी कनैक्शन फ़राहम किए गए इस तरह माह दिसमबर तक रियासत में 31.42 लाख बर्क़ी कनैक्शन हैं ।

उन्हों ने बताया कि आइन्दा दिनों में बर्क़ी ज़रूरीयात को पूरा करने औसत-ओ-तवील मुद्दती मंसूबा जात मुरत्तिब किए गए हैं ।
समारिया ने बताया कि पावर ग्रिड कारपोरेशन आफ़ इंडिया ने 765 के वे सब स्टेशन तामीर करवाने के अलावा सदर्न रीजन ग्रिड को मरबूत करने इक़दामात किए जाएं और ये काम तवक़्क़ो हीका माह जनवरी 2014 तक मुकम्मल करलिए जाऐंगे ।

इस मौके पर जवाइंट मनीजिंग डायरेक्टर वीजलनस इनफ़ोरसमनट ट्रांस्को ओमा पत्ती-ओ-चन्द्र शेखर रेड्डी सैक्रेटरी और दुसरे मौजूद थे ।

TOPPOPULARRECENT