Thursday , August 17 2017
Home / Crime / रिशवत लेते अधिकारी गिरफ़्तार

रिशवत लेते अधिकारी गिरफ़्तार

रायपुर: छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले में एंटी करप्शन ब्यूरो के दल ने कार्रवाई कर लोक निर्माण विभाग के अनुविभागीय अधिकारी को एक लाख रूपए की कथित रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है।

एंटी करप्शन ब्यूरो के अधिकारियों ने आज यहां बताया कि ब्यूरो की टीम ने बीजापुर में कार्यवाही करते हुए आज लोक निर्माण विभाग के अनुविभागीय अधिकारी कुंवर लाल रंगारी (56 वषर्) को एक लाख रूपए की कथित रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा है।

ब्यूरो के अधिकारियों ने बताया कि के भावेश राव, शांतिनगर, जगदलपुर का निवासी है तथा ए-2 श्रेणी का ठेकेदार है। जिले में सड़क निर्माण के कार्य का ठेका भावेश को मिला था। सड़क निर्माण कार्य पूरा हो गया था, माप पुस्तिका में माप दर्ज हो चुका था और बिल भी प्रस्तुत किये जा चुके थे। भावेश को 18,25,235 रूपए का चेक भी जारी किया जा चुका था। तब कुंवर लाल रंगारी ने इस भुगतान के एवज में भावेश से चार लाख रूपए रिश्वत की मांग की थी।

अधिकारियों ने बताया कि भावेश ने इसकी शिकायत एसीबी से की थी। एसीबी ने शिकायत का सत्यापन कराया और शिकायत को सही पाया गया।

उन्होंने बताया कि रंगारी ने हिसाब एक परची पर लिखकर 2,45,500 रूपए रिश्वत की मांग की और पहली किश्त एक लाख रूपए लेकर आज अपने बीजापुर स्थित कार्यालय में बुलाया। इसी दौरान एसीबी की टीम भी बीजापुर पहुंच गई। जब रंगारी ने भावेश से एक लाख रूपए प्राप्त किया एसीबी की टीम ने दबिश देकर आरोपी रंगारी को पकड़ लिया।

अधिकारियों ने बताया कि एसीबी की टीम ने रंगारी से रिश्वती धनराशि बरामद कर जप्त कर लिया और आरोपी द्वारा हिसाब कर जो पर्ची बनाई गई थी उसे भी ब्यूरो के अधिकारियों ने जब्त कर लिया।
उन्होंने बताया कि रंगारी को भ्रष्ट्राचार निवारण अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत गिरफ्तार किया गया है।

(पीटीआई के हवाले से ख़बर)

TOPPOPULARRECENT