Wednesday , May 24 2017
Home / Delhi News / रिश्वत वाले बयान पर केजरीवाल ने चुनाव आयोग को दिखाये तेवर

रिश्वत वाले बयान पर केजरीवाल ने चुनाव आयोग को दिखाये तेवर

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मतदाताओं से पैसे लेकर वोट देने वाले बयान पर चुनाव आयोग को सख्त तेवर दिखाए हैं। केजरीवाल ने ट्वीट कर आयोग को ही निशाने पर ले लिया। केजरीवाल ने ट्वीट किया, कि चुनाव आयोग उसे रोकने में नाकाम रहा है। आयोग मुझे ‘उनके पैसे लो और हमें वोट करो’ कहने से रोक रहा है। ‘उनके लिए वोट करो जो आप के लिए पैसे देते हैं।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

आपको बता दें कि 22 जनवरी को चुनाव आयोग ने गोवा में प्रचार के दौरान केजरीवाल को पैसे लेने वाले बयान पर फटकार लगाई थी। आयोग ने केजरीवाल को चेतावनी दी थी कि अगर वे आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन करना जारी रखते हैं तो उन पर और आम आदमी पार्टी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। आयोग ने आप की मंजूरी वापस लेने तक की बात कही थी।

https://twitter.com/ArvindKejriwal?ref_src=twsrc%5Etfw

चुनाव आयोग के सख्त रुख से भी केजरीवाल अपनी बात पर अड़े हुए हैं। उनका नया ट्वीट उसी की गवाही दे रहा है। केजरीवाल ने साफ कर दिया है कि उनके तेवर बरकरार रहेंगे।

वहीं, भाजपा ने इसे लेकर केजरीवाल को निशाने पर लिया है। भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि केजरीवाल चुनाव आयोग की विश्वसनीयता पर सवाल उठा रहे हैं। उन्हें इसके लिए माफी मांगनी चाहिए।

उल्लेखनीय है कि दिल्ली के चुनाव में अरविंद केजरीवाल ने लगातार अपनी सभाओं में बयान दिया था कि अगर विपक्षी पार्टी के नेता वोट के बदले नोट देने आयें, तो उनसे नोट जरूर ले लेना लेकिन वोट आम आदमी पार्टी को ही देना। गोवा और पंजाब की रैलियों में भी अरविंद केजरीवाल ने इसे दोहराया। गोवा की चुनावी रैली में उनके इस बयान की शिकायत चुनाव आयोग को पहुंची, तो चुनाव आयोग ने उन्हें नोटिस जारी कर दिया। उत्तर में अरविंद केजरीवाल ने माफी मांगने की बजाय अपने रुख को और मजबूत ढंग से रखा। उन्होंने साफ कहा कि वह किसी मतदाता को वोट के बदले नोट देने की बात नहीं कर रहे, बल्कि जो राजनीतिक पार्टी नोट के माध्यम से वोट खरीदना चाहती है, उसके खिलाफ यह बयान है।

Top Stories

TOPPOPULARRECENT