Sunday , October 22 2017
Home / Hyderabad News / रुक्न असैंबली के इंतिख़ाब (चुनाव) को जगन से मानून करने का ऐलान

रुक्न असैंबली के इंतिख़ाब (चुनाव) को जगन से मानून करने का ऐलान

वाई एस आर कांग्रेस के नौ मुंतख़ब अरकान असैंबली ने अपनी जीत को पार्टी सदर जगन मोहन रेड्डी के नाम मानून कर दिया। जगन मोहन रेड्डी ने अरकान असैंबली को मुबारकबाद पेश करते हुए अपने अपने असैंबली हल्कों मेंअवाम मसाइल को हल करने के इलावा

वाई एस आर कांग्रेस के नौ मुंतख़ब अरकान असैंबली ने अपनी जीत को पार्टी सदर जगन मोहन रेड्डी के नाम मानून कर दिया। जगन मोहन रेड्डी ने अरकान असैंबली को मुबारकबाद पेश करते हुए अपने अपने असैंबली हल्कों मेंअवाम मसाइल को हल करने के इलावा अवाम के दुख-सुख में शामिल रहने का मश्वरा दिया। ज़िमनी इंतिख़ाबात (उप चुनाव) में कामयाबी हासिल करने वाले अरकान असैंबली ने आज चंचल गुड़ा जेल पहुंच कर जगन मोहन रेड्डी से मुलाक़ात की, जिन्हें देख कर जगन बहुत ख़ुश हुए।

उन्हों ने अरकान असैंबली से इंतिख़ाबी मुहिम के बारे में मालूमात हासिल की। शिकस्त से दो चार पी सुभाष चन्द्र बोस, कोन्डा सुरेखा और प्रसाद राज के बारे में दरयाफ़त करते हुए कामयाब होने वाले अरकान असैंबली को मश्वरा दिया कि वो उन से राबिता में रहें और उन्हें मेरा पैग़ाम पहुंचा दें कि मायूस ना हों, पार्टी और वो उन के साथ हैं। अरकान असैंबली ने विजया अम्मां और मिसिज़ शर्मीला की जानिब से चलाई गई कामयाब इंतिख़ाबी मुहिम से जगन को वाक़िफ़ कराया। बादअज़ां (बाद में) अरकान असैंबली ने लोटस पाउनड पहुंच कर पार्टी की एज़ाज़ी सदर मिसिज़ विजया अम्मां से मुलाक़ात की।विजया अम्मां ने भी उन्हें मुबारकबाद पेश की।

अरकान ने पार्टी ऑफ़िस पहुंच कर वाई वी सुब्बा रेड्डी, डाक्टर एम वी मीसोरा रेड्डी के इलावा पार्टी के दीगर क़ाइदीन (नेताओं) से भी मुलाक़ात की। पार्टी क़ाइदीन (नेताओं) ने नौ मुंतख़ब क़ाइदीन (नेताओं) का गर्मजोश ख़ौरमक़दम (स्वागत) किया। इस मौक़ा पर मीडीया से बातचीत करते हुए वाई एस आर कांग्रेस के अरकान असैंबली ने डाक्टर राज शेखर रेड्डी के अधूरे ख़ाबों की तकमील के लिए जगन मोहन रेड्डी की क़ियादत में काम करने और रियासत में अपोज़ीशन का तामीरी रोल अदा करने के अज़म का इज़हार किया। अरकान असैंबली ने कहा कि मौजूदा कांग्रेस हुकूमत ने डाक्टर राज शेखर रेड्डी की मुतआरिफ़ कर्दा तमाम फ़लाही स्कीमों को नजरअंदाज़ कर दिया है। जिस क़ाइद ने रियासत और मर्कज़ में कांग्रेस को बरसर-ए-इक्तदार लाने (सत्ता में) में अहम रोल अदा किया था।

TOPPOPULARRECENT