Monday , October 23 2017
Home / Islami Duniya / रुबात में हैदराबादी आज़मीन के क़ियाम के मसले पर 7 अक्टूबर को मीटिंग

रुबात में हैदराबादी आज़मीन के क़ियाम के मसले पर 7 अक्टूबर को मीटिंग

मक्का मुकर्रमा में वाक़्ये हैदराबादी रुबात में आज़मीने हज्ज के क़ियाम के मसले की यकसूई के लिए डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर तेलंगाना मुहम्मद महमूद अली के साथ हज मिशन और रुबात के ज़िम्मेदारों की मीटिंग तलब किया गया है।

मक्का मुकर्रमा में वाक़्ये हैदराबादी रुबात में आज़मीने हज्ज के क़ियाम के मसले की यकसूई के लिए डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर तेलंगाना मुहम्मद महमूद अली के साथ हज मिशन और रुबात के ज़िम्मेदारों की मीटिंग तलब किया गया है।

7 अक्टूबर को इंडियन हज मिशन की तरफ से ये मीटिंग मुनाक़िद होगी जिस में रुबात के फ़रीक़ैन को भी बातचीत के लिए मदऊ किया जा रहा है। महमूद अली जो फ़रीज़ा हज की अदायगी के सिलसिले में सऊदी अरब के दौरे पर हैं मदीना मुनव्वरा से सियासत से बातचीत करते हुए कहा कि उन्हें उम्मीद हैके जारीया साल इस मसले की यकसूई करली जाएगी और आइन्दा साल हज में तेलंगाना के आज़मीनेहज्ज निज़ाम के रुबात में क़ियाम कर पाऐंगे।

उन्होंने कहा कि नाज़िर रुबात और निज़ाम्स औक़ाफ़ कमेटी दोनों का मक़सद रुबात में तेलंगाना के आज़मीने हज्ज के क़ियाम को यक़ीनी बनाना है लिहाज़ा उन्हें उम्मीद हैके इस तनाज़ा की ख़ुशगवार यकसूई करली जाएगी।

महमूद अली ने सऊदी हुक्काम से मुशावरत करते हुए मुनहदिम की गई रुबात की इमारतों के मुआवज़ा के बदले कोई मौज़ूं इमारत ख़रीद कर उसे रुबात में तबदील करने की नुमाइंदगी की।

उन्होंने तजवीज़ पेश की के इमारत को सऊदी हुकूमत अपनी तहवील में रखे ताहम उसे आज़मीने हज्ज के क़ियाम के लिए इस्तेमाल की इजाज़त दी जाये।

उन्होंने सेंट्रल हज कमेटी और मुक़ामी ओहदेदारों से बातचीत करते हुए इंतेज़ामात के बारे में मालूमात हासिल की। उन्होंने बाज़ इमारतों का दौरा करते हुए आज़मीने हज्ज से मुलाक़ात की।

तेलंगाना से ताल्लुक़ रखने वाले आज़मीन से मुलाक़ात के दौरान उन्होंने सहूलतों के बारे में इस्तिफ़सार किया। पहली मर्तबा मक्का मुकर्रमा में भी आज़मीने हज्ज के लिए ताम के इंतेज़ामात किए गए हैं जिस से आज़मीन काफ़ी ख़ुश हैं।

महमूद अली ने कहा कि हज कमेटी की तरफ से हैदराबाद में किए गए इंतेज़ामात के बारे में भी आज़मीन ने इतमीनान का इज़हार किया है जिस के लिए वो हज कमेटी को मुबारकबाद पेश करते हैं।उन्होंने बताया कि सऊदी अरब के एक नामवर इस्लामी इदारे से मुशावरत के बाद वो हैदराबाद में इस्लामिक सेंटर के क़ियाम की मसाई करेंगे।

TOPPOPULARRECENT