Saturday , October 21 2017
Home / India / रुशदी का वीडीयो ख़िताब भी बगै़र इजाज़त नहीं होगा

रुशदी का वीडीयो ख़िताब भी बगै़र इजाज़त नहीं होगा

जयपुर, २४ जनवरी (पी टी आई) सलमान रुशदी तनाज़ा के एक नए मोड़ में हुकूमत राजस्थान ने आज कहा कि वो जयपुर लिटरेचर फेस्टीवल में मुतनाज़ा मुसन्निफ़ के वीडीयो राबिता के ज़रीया मुजव्वज़ा ख़िताब को पेशगी इजाज़त के बगै़र मंज़ूरी नहीं देगी। ये तबदील

जयपुर, २४ जनवरी (पी टी आई) सलमान रुशदी तनाज़ा के एक नए मोड़ में हुकूमत राजस्थान ने आज कहा कि वो जयपुर लिटरेचर फेस्टीवल में मुतनाज़ा मुसन्निफ़ के वीडीयो राबिता के ज़रीया मुजव्वज़ा ख़िताब को पेशगी इजाज़त के बगै़र मंज़ूरी नहीं देगी। ये तबदीली एक रोज़ बाद हुई जबकि हिंदूस्तानी नज़ाद मुसन्निफ़ ने राजस्थान पुलिस को उसे हलाक करने के मंसूबे के ताल्लुक़ से दरोग़ गोई का मौरिद इल्ज़ाम ठहराया ताकि उसे फेस्टीवल से दूर रखा जा सके, लेकिन इस इल्ज़ाम को रियास्ती हुकूमत ने मुस्तर्द करदिया और कहा कि इ‍ंटेलीजेंस ब्यूरो ने ऐसी इत्तिलात दी थीं और मन घड़त नहीं।

हुकूमत राजस्थान के सीनीयर ओहदादार ने पी टी आई को बताया कि वो इस मुआमले जायज़ा ले रहे हैं और अभी तक रुशदी की कोई वीडीयो कान्फ़्रैंसिंग का इंतिज़ाम करने केलिए आर्गेनाईज़र्स की तरफ़ से इजाज़त तलब नहीं की गई है। उन्हों ने कहा कि हुकूमत पेशगी इजाज़त के बगै़र उसे मंज़ूरी नहीं देगी। रुशदी जिस ने गुज़शता हफ़्ते अपनी जान को ख़तरा की वजह बताते हुए इस फेस्टीवल में शिरकत के लिए अपना दौरा मंसूख़ कर दिया था, वो बताया जा रहा था कि फेस्टीवल के आख़िरी रोज़ कल वीडीयो राबिता के ज़रीया ख़िताब करेगा लेकिन सिलसिला वार मुतनाज़ा तबदीलीयों के बाद ये भी गैरमुमकिन ज़ाहिर होने लगा है।

ये पूछने पर आया वीडीयो ख़िताब का इमकान हनूज़ बरक़रार है, फेस्टीवल प्रोडयूसर संजीव के राय का तास्सुर कुछ जज़बाती नज़र आया। फ़िलहाल, जो कुछ मैं जानता हूँ, ये (इमकान) बरक़रार है। कोई भी ओहदादार ने अभी तक एतराज़ करते हुए हम से बात नहीं की है। जब से रुशदी के दौरे का ऐलान हुआ तब से ये फेस्टीवल तनाज़ा से घिरा है और एहतिजाज छिड़ गए।

इस का दौरा मंसूख़ होने पर बतौर-ए‍एहतिजाज चार मुसन्निफ़ीन ने इस की ममनूआ किताब शैतानी कलिमात के इक़तिबासात पढ़ दिए। ये चारों राइटर्स को भी फेस्टीवल से दस्तबरदार होना पड़ा जबकि क़ानूनी मसाइल पैदा हो गए और आर्गेनाईज़र्स ने इन मुसन्निफ़ीन से ख़ुद को अलग कर लिया। रुशदी ने अपने दौरे की मंसूख़ी का एक ब्यान के ज़रीया ऐलान करने के बाद 20 जनवरी को ट्विटर पर कहा था, जयपुर में ना होने पर बहुत दुख है।

मुझे बताया गया कि मुम्बई माफ़िया डॉन ने दो ग़ुंडों को हथियार फ़राहम कर दिए कि मुझे हलाक करदिया जाय। वीडीयो लिंक से काम चलायेंगे। एडीशनल पुलिस कमिशनर बीजू जॉर्ज जोज़िफ ने कहा कि आर्गेनाईज़र्स ने वीडीयो कान्फ्रेंसिंग के लिए कोई इजाज़त तलब नहीं की है और रियास्ती हुकूमत की इजाज़त के बगै़र कुछ भी नहीं किया जाएगा। मुस्लिम तंज़ीमें जिन्होंने रुशदी के दौरा‍ ए‍ जयपूर की शिद्दत से मुख़ालिफ़त की, वीडीयो ख़िताब के इमकान पर मुनक़सिम नज़र आएं, जैसा कि बाअज़ का कहना है इस की मुख़ालिफ़त करने की कोई वजह नहीं, जबकि दीगर ये देखना चाहते हैं आया कोई क़ाबिल एतराज़ मवाद है।

मुहम्मद सलीम इंजीनियर, मोतमिद क़ौमी, जमात-ए-इस्लामी हिंद, जो बहैसीयत मंदूब इस फेस्टीवल में मौजूद हैं, इनका कहना है, हमने मुंतज़मीन से बात की जिन्होंने हमें बताया कि ये कान्फ्रेंस कल मुनाक़िद होगी जबकि दूसरी तरफ़ पुलिस और इंतिज़ामीया ने कहा कि वो रियास्ती हुकूमत से बाज़ाबता इजाज़त के बगै़र उन्हें इस मुआमले में आगे बढ़ने नहीं देंगे। ताहम मुहम्मद सलीम ने कहा कि इन का ग्रुप और और दीगर समझते हैं कि रुशदी मुजरिम है और अगर वो कुछ भी काबिल एतराज़ चीज़ ब्यान करता है और कोई कार्रवाई ना की जाय तो हम जमहूरी और पुरअमन एहतिजाज पर मजबूर हो सकते हैं।

उन्होंने कहा: हमें वीडीयो कान्फ्रेंसिंग से कोई मसला नहीं है। लेकिन अगर इस के ज़रीया कोई गै़रक़ानूनी (ग़ीरशरई) चीज़ की जाती है तो इस से निमटने के लिए क़ानूनी इदारे हैं। रियास्ती मोतमिद, कल हिंद मिली कौंसल, अबदुल लतीफ़ ने कहा, अव्वल तो, मैं नहीं समझता कि ऐसा कुछ होगा।

लेकिन अगर उसे क़तईयत दी जाय तो हम आपस में मुशावर्त करते हुए इसी के मुताबिक़ फ़ैसला करेंगे। एक और ग्रुप मुस्लिम एकता मंच ने जो अजमेर नशीन है, मुजव्वज़ा वीडीयो कान्फ्रेंसिंग पर एतराज़ किया और कहा कि वो इस के ख़िलाफ़ एहतिजाज करेंगे।

TOPPOPULARRECENT