Monday , October 23 2017
Home / Khaas Khabar / रुशदी की किताबें पढ़ने वाले मुसन्निफ़ीन पर इम्तिना का मुस्लिम तंज़ीमों का मुतालिबा

रुशदी की किताबें पढ़ने वाले मुसन्निफ़ीन पर इम्तिना का मुस्लिम तंज़ीमों का मुतालिबा

जयपुर, 22 जनवरी: ( पी टी आई ) जयपुर के अदबी मेला से पहले मुस्लिम तंज़ीमों ने आज इसके मुंतज़मीन को इंतिबाह (Warning) दिया कि वो ऐसे मुसन्निफ़ीन को मदऊ ना करें जो मुस्लिम तबक़ा के मज़हबी जज़बात मजरूह करते हैं । इन में वो चार अदीब भी शामिल हैं जिन्हों

जयपुर, 22 जनवरी: ( पी टी आई ) जयपुर के अदबी मेला से पहले मुस्लिम तंज़ीमों ने आज इसके मुंतज़मीन को इंतिबाह (Warning) दिया कि वो ऐसे मुसन्निफ़ीन को मदऊ ना करें जो मुस्लिम तबक़ा के मज़हबी जज़बात मजरूह करते हैं । इन में वो चार अदीब भी शामिल हैं जिन्होंने गुज़शता साल अदबी मेला में सलमान रुशदी की ममनूआ किताब शैतानी कलिमात के इक्तेबासात पढ़ कर सुनाए थे ।

मुस्लिम आलम-ए-दीन मुजाहिद नक़वी ने कहा कि अगर कोई अदीब मुस्लिम तबक़ा के जज़बात मजरूह करके तनाज़ा पैदा करता हो और जयपुर के अदबी मेला में शिरकत के लिए आए तो हम उसकी मुख़ालिफ़त करेंगे और उन्हें सख़्त कार्रवाई का सामना करना होगा । चार अदीबों में से एक जीत ताइल (Jeet Thayil)ने शैतानी कलिमात के इक्तेबासात गुज़शता साल पढ़ कर सुनाए थे इसके जारीया साल भी अदबी मेला में शिरकत मुतवक़्क़े है और मुस्लिम तंज़ीम उस की मुख़ालिफ़त कर रही है ।

दीगर तीन अदीबों में रोचीर ,हरी कनज़रो , अमीत कुमार शामिल हैं । जिन्होंने ममनूआ किताब के इक्तेबासात पढ़ कर सुनाए थे जिसकी बिना पर उनके ख़िलाफ़ क़ानूनी कार्रवाई की जा सकती है ।ये फ़ैसला मुस्लिम तंज़ीमों के ज़ेर-ए-एहतिमाम कल मुनाक़िदा अज़ीमुश्शान अज़मत-ओ-नामूस रिसालत कान्फ्रेंस में किया गया ।

TOPPOPULARRECENT