Thursday , October 19 2017
Home / World / रूस की शाम में मुदाख़िलत खुली जारहीयत अरदगान

रूस की शाम में मुदाख़िलत खुली जारहीयत अरदगान

In this photo taken Thursday, Oct. 15, 2015 , a Sukhoi SU-27 jet of the aerobatics team Russian Knights approaches to land at Kubinka Air Base in Kubinka, 65 kilometers (40 miles) outside Moscow, Russia. In Kubinka, a vast workshop that upgrades warplanes of the kind Russia is using in Syria is the town’s main lifeblood, and support for the Syria campaign is strong among the town residents. (AP Photo/Pavel Golovkin)

अँकरा: तुर्की के सदर रजब तय्यब अरदगान ने कहा है कि शाम में चार लाख लोगों के क़त्ल-ए-आम में शामिल‌ शामी हुकूमत और इस के हामी रूस का कड़ा एहतिसाब होना चाहिए।

रूस शाम में असदी ममलिकत के क़ियाम में बशारुल अस‌द की मुआवनत करते हुए लाखों बेगुनाह शहरीयों को हलाक और उन्हें बे-घर करने के जुर्म में शामिल‌ है। ग़ैर मुल्की मीडिया के मुताबिक़ सेनेगाल के सदर के साथ‌ प्रेस कान्फ़्रेंस से ख़िताब करते हुए तुर्क सदर ने रूसी हुकूमत को तन्क़ीद का निशाना बनाते हुए मास्को की तरफ‌ से अँकरा की शाम में मुदाख़िलत के इल्ज़ामात को ‘मज़हकाख़ेज़ क़रार दिया और साथ ही उन्होंने रूस की शाम में मुदाख़िलत को खुली जारहीयत क़रार देते हुए उसकी शदीद अलफ़ाज़ में मज़म्मत की।

अरदगान ने कहा रूसी हुकूमत की तरफ‌ से अँकरा पर शाम में फ़ौजी मुदाख़िलत का इल्ज़ाम आयद करने पर हंसी आती है। रूस, ख़ुद शाम में खुली जारहीयत का मुर्तक़िब हुआ है और तुर्की पर शाम में फ़ौजी मुदाख़िलत का इल्ज़ाम आइद करके उसका मनफ़ी प्रोपेगंडा कर रहा है । उन्होंने कहा कि रूस ने शाम में ना सिर्फ फ़ौजी जारहीयत की है बल्कि लाखों बेगुनाह शहरीयों का ख़ून बहाने में भी शामिल‌ है|

TOPPOPULARRECENT