Sunday , October 22 2017
Home / India / रेप के लिए लडकियां जिम्मेदार, जींस-स्कर्ट पहनने पर पाबंदी!

रेप के लिए लडकियां जिम्मेदार, जींस-स्कर्ट पहनने पर पाबंदी!

बलात्कार के लिए लडकियों को जिम्मेदार टहराते हुए हिन्दू महासभा ने एक तुगलकी फरमान जारी करते हुए लड़कियों के जींस, स्कर्ट पहनने और मोबाईल रखने पर रोक लगा दी है। हिसार में हिन्दू महासभा के रियसती सदर रमेश पानू की सदारत में हुई बैठक मे

बलात्कार के लिए लडकियों को जिम्मेदार टहराते हुए हिन्दू महासभा ने एक तुगलकी फरमान जारी करते हुए लड़कियों के जींस, स्कर्ट पहनने और मोबाईल रखने पर रोक लगा दी है। हिसार में हिन्दू महासभा के रियसती सदर रमेश पानू की सदारत में हुई बैठक में यह फैसला लिया गया। बैठक में बहस के दौरान लडकियों को ही रेप का मुजरिम ठहराया गया।

दलील पेश की गई कि लडकियां भडकाऊ कपडे पहनती हैं जिसकी वजह से लडके उनकी ओर मुतवज्जा होते हैं। वहीं, मोबाइल पर पाबंदी लगाने के पीछे यह दलील दिया गया है कि लडकियां मोबाइल से लडकों को बुलाती हैं। सतरोल खाप की पहली खातून प्रधान सुदेश चौधरी ने हिन्दू महासभा के इस बेतुके फरमान पर सख्त ऐतराज़ जताया है।

उन्होंने कहा, लडकियों के कपडों की वजह से रेप नहीं होते बल्कि उन लोगों की गंदी सोच की वजह से रेप होते हैं। इसलिए लडकियों पर किसी तरह की पाबंदी सहन नहीं की जाएगी। चौधरी ने कहा, कि इसके लिए अगर जरूरत पडी तो वह तहरीक करने से भी पीछे नही हटेंगी और ऐसे फरमान जारी करने वालों का सामाजी बायकाट किया जायेगा। सुदेश चौधरी जल्दी ही हरियाणा के सीएम मनोहरलाल खट्टर से मिलकर मामले में मुदाखिलत की मांग करेंगी।

TOPPOPULARRECENT