Saturday , October 21 2017
Home / Business / रेल मुसाफ़िरों को सहूलत बहम पहुंचाने अदालत की हिदायत

रेल मुसाफ़िरों को सहूलत बहम पहुंचाने अदालत की हिदायत

चेन्नई , 05 दिसंबर: (पीटीआई) मद्रास हाइकोर्ट ने रेलवेज़ को हिदायत दी है की वो ऐसा सादा तरीका-ए-कार इख्तेयार करे जिसे ग़रीब मुसाफ़िरो को मुश्किलात पेश ना आएं। रेलवेज़ की जानिब से रिज़र्वेशन के ज़रीया सफ़र पर असल शनाख़्ती कार्ड साथ रखने को लाज़

चेन्नई , 05 दिसंबर: (पीटीआई) मद्रास हाइकोर्ट ने रेलवेज़ को हिदायत दी है की वो ऐसा सादा तरीका-ए-कार इख्तेयार करे जिसे ग़रीब मुसाफ़िरो को मुश्किलात पेश ना आएं। रेलवेज़ की जानिब से रिज़र्वेशन के ज़रीया सफ़र पर असल शनाख़्ती कार्ड साथ रखने को लाज़िमी क़रार दिया गया है और यक्म दिसंबर से इस पर अमल किया जा रहा है।

अदालत में मफ़ाद-ए-आम्मा की दरख़ास्त दायर करते हुए कहा गया है कि रेलवे की नई शर्त ग़ैर वाजिबी है। इससे मुसाफ़िरों को गै़रज़रूरी मुश्किलात का सामना करना पड़ेगा और ज़हनी अज़ीयत से दो-चार होना पड़ेगा। दरख़ास्त गुज़ार ने कहा कि मुसाफ़िरो के पास फ़ोटो शनाख़्ती कार्ड हमेशा साथ रहना ज़रूरी नहीं। ये एक तरह का ज़ुल्म और गै़रक़ानूनी अमल है। बंच ने रेलवेज़ को हिदायत दी है कि इस तरह के क़वाइद लागू ना करे और मुसाफ़िरों को सहूलत बहम पहुंचाए।

TOPPOPULARRECENT