Saturday , August 19 2017
Home / International / रोहंगिया: मुसलमानों की दुर्दशा पर विशेष आयोग की बैठक, आंग संग सूकी और कोफी अनान ने लिया भाग

रोहंगिया: मुसलमानों की दुर्दशा पर विशेष आयोग की बैठक, आंग संग सूकी और कोफी अनान ने लिया भाग

यगून: म्यांमार की नेता आंग सांग सूकी और संयुक्त राष्ट्र के पूर्व महासचिव कोफी अनान ने म्यांमार के जलजनित क्षेत्रों में शांति बहाली से संबंधित आयोग की पहली बैठक की निगरानी, जहां बुधिष्टो और अल्पसंख्यक रोहंग्याई मुसलमानों के बीच हिंसक घटनाओं ने देश की सत्ता में लोकतांत्रिक परिवर्तन की राह मुश्किल कर दिया है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

क्षेत्र में रोहंगयाई मुसलमानों की दुर्दशा ने मानवाधिकारों के प्रति आंग सांग सूकी के अहद पर सवालिया निशान लगा दिया है और यह उनकी पार्टी नेशनल लीग फॉर डेमोक्रेसी के लिए एक संवेदनशील राजनीतिक मुद्दा बन गया है, जिसे पिछले चुनाव में बहुमत से जीत मिली थी।
विशेष आयोग का उद्देश्य उत्तर पश्चिमी प्रांत राखीन में मानवाधिकारों के उल्लंघन को रोकना है, जिसकी पहली बैठक की अध्यक्षता आज कोफी अनान ने की। राजधानी यांगून में आयोजित बैठक में सुश्री आंग सांग सूकी ने कहा कि यह एक ऐसा मुद्दा है जो को निष्पक्षता और निष्पक्ष ढंग से निपटाने में हम विफल हो चुके हैं और अब तक हमें इस समस्या का सही समाधान नहीं मिल सका है। उन्होंने कहा कि हम उम्मीद करते हैं कि यह आयोग रोहंग्या समस्या का सही समाधान ढूंढने में सहायक होगा।
गौरतलब है कि राखीन क्षेत्र में 2012 में होने वाले हिंसक घटनाओं में सैकड़ों लोगों की मौत हुई थी और लाखों रोहंग्या मुसलमानों को राहत शिविरों में शरण लेना पड़ा था। इस क्षेत्र में रोहंगिया मुसलमानों की आवाजाही सीमित कर दी गई थी, इसलिए हजारों गरीबी और अत्याचार और ज़ुल्म के डर से नावों के जरिए भाग गए हैं।

TOPPOPULARRECENT