Saturday , October 21 2017
Home / Khaas Khabar / लव-जेहाद मुहिम में संघ का साथ देगी बीजेपी

लव-जेहाद मुहिम में संघ का साथ देगी बीजेपी

यूपी के मेरठ में लव जेहाद के मामले आने के बाद अब यूपी की बीजेपी यूनिट इसे बड़ा मुद्दा बनाने के लिए तैयार है. बीजेपी सदर अमित शाह ने इसका खाका तैयार कर लिया है |

यूपी के मेरठ में लव जेहाद के मामले आने के बाद अब यूपी की बीजेपी यूनिट इसे बड़ा मुद्दा बनाने के लिए तैयार है. बीजेपी सदर अमित शाह ने इसका खाका तैयार कर लिया है |

अमित शाह के यूपी दौरे के बाद आज मथुरा में स्टेट एग्जीक्यूटिव की बैठक शुरु होगी. इस बैठक का एजेंडा लव जेहाद होगा. आज इसी मुद्दे पर एग्जीक्यूटिव की बैठक में बहस होगी| इससे पहले लव-जेहाद आरएसएस का एजेंडा था |

इस बैठक में मज़हब की तब्दीली और लव जेहाद पर एक तजवीज पास किया जाएगा | 24 अगस्त को इस पर बहस होगी और इसे पास कर दिया जाएगा |

संघ ने रक्षा बंधन पर लव जेहाद के खिलाफ एक मुहिम का एलान किया था | संघ के कारकुन घूम-घूम कर लोगों को राखी बांध रहे थे और लव जिहाद के खतरे बता रहे हैं | लोगों को ये समझाया जा रहा है कि वो कैसे अपने घर के बहू बेटियों की लाज बचाएं |

दो दिनों तक चलने वाली इस बैठक का इफ्तेतहा बीजेपी सदर अमित शाह करेंगे | जबकी वज़ीर ए दाखिला राजनाथ सिंह खास मेहमान के तौर पर इस बैठक में शिरकत कर सकते हैं| इस बैठक में यूपी बीजेपी के सभी बड़े लीडरों के भी शामिल होने की उम्मीद जताई जा रही है |

हिन्दू लड़की मुस्लिम लड़का . मुहब्बत …और फिर फिर्कावाराना दंगे . मगरिबी यूपी में लव जिहाद को लेकर माहौल गर्म है. करीब साठ फिर्कावाराना टकराव हो चुके हैं | मदरसे निशाने पर हैं क्योकि इल्ज़ाम ये है कि इऩके जरिए ही हिन्दू लड़कियों पर निशाना साधा जा रहा है |

बीजेपी, बजरंग दल और आरएसएस ने हल्ला बोल दिया है. मुस्लिम लीडर इसे इस्लाम को बदनाम करने की साजिश बताते हैं तो यूपी पुलिस के लिए लव जिहाद जैसे कोई चीज नहीं . सब बकवास है |

लव जिहाद. गलत नियत से अगर मुस्लिम लड़के गैर मुस्लिम लड़कियों से निकाह करते हैं या इश्क़ करते है. उसका मज़हब बदलवाते हैं . तो इसे लव जिहाद समझा जाता है. इंग्लैंड समेत कुछ यूरोपीय मुल्कों में कई सालों से इस पर मुतनाज़ा जारी है |

बात साल 2006 की है. जस्टिस राकेश शर्मा ने केस की सुनवाई करते हुए मरकज़ी वज़ीर ए दाखिला को आईबी से ऐसे मामलों की जांच करने को कहा था. लेकिन बात आगे नहीं बढ़ी. मगरिबी यूपी में शहर से लेकर देहात तक . सब की जुबान पर लव जिहाद है . हर तरफ तनातनी है. हर निगाह पर शक का पहरा है |

हिन्दू मुस्लिम का निकाह पहले भी होता रहा है . लेकिन हिंदूवादी तंज़ीम अब इसे लव जिहाद बता रहे हैं. 53 झगडे हो चुके हैं. आरएसएस, धर्म जागरण मंच और बीजेपी लीडरों ने मदरसों के खिलाफ हल्ला बोल दिया है. इनकी मानें तो मुस्लिम लड़के जान-बूझ कर हिन्दू लड़कियों को फंसा रहे हैं. हिन्दूवादी तंज़ीमों के मुताबिक़ मंसूबाबंदी तरीके से ऐसा हो रहा है |

उलेमा और मुस्लिम लीडर कहते हैं जब से दिल्ली में मोदी की हुकूमत बनी है. जान बूझ कर उन्हें किसी न किसी बहाने बदनाम किया जा रहा है. मदरसों को ख़त्म करने की साजिश हो रही है. मगरिबी यूपी में खतरे की घंटी बज चुकी है. पिछले साल मुज़फ्फरनगर में हिन्दू लड़की और मुस्लिम लड़की के झगडे से ही दंगे की शुरुआत हुई थी |

क़ानून निज़ाम संभाल रहे अफसरों को भी मालूम है एक चूक भारी पड़ सकती है. लेकिन लव जिहाद पर कोई भी आफीसर खुल कर बोलने से बच रहा है |

लव जिहाद के चलते यूपी के मगरिबी इलाके में तनाव है. गांव-गांव में पंचायतें लगने लगी हैं. ड्रेस कोड से लेकर किस्म किस्म की पाबंदियां लगाने की तैयारी है. हैरानी की बात तो ये है कि इस मसले पर उलेमा और हिन्दू लीडर दोनों एक हैं |

हिन्दू लड़की और मुस्लिम लड़के के रिश्तों पर ये बखेड़ा क्यों . ये सियासत क्यों. पुलिस अफसर बताते है की पहले एक जाति के लड़के की दूसरे जाति की लड़की पर भी ऐसे ही तनाज़ा होता था. ये सिर्फ नज़रिये का फर्क है |

सदियों से एक मज़हब के लोग दूसरे मज़हब की लड़कियों से शादी करते रहे हैं. लेकिन शायद ही कभी मुल्क के सबसे बड़े सूबे यूपी में कभी इतना बवाल हुआ हो. तो फिर अब इतना हंगामा क्यों . ये भी सच है कि अब तक ना तो कोई जांच एजेंसी ना ही कोई अदालत लव जाहिद को साबित कर पायी है |

लव जिहाद के खिलाफ आर एस एस ने हल्ला बोल दिया है. रक्षा बंधन से हफ्ते भर के लिए मगरिबी यूपी में एक ख़ास मुहीम चलाई जा रही है. संघ के कारकुन घूम घूम कर लव जिहाद के खतरे बता रहे हैं |

मेरठ के एक छोटे से मोहल्ले में आर एस एस की शाखा चल रही है. हर उम्र और तबके के लोग जमा हैं. डॉक्टर, वकील से लेकर ताज़िर तक. शाखा ख़त्म होते ही सब चल पड़ते हैं एक खुसूसी मुहिम पर. मुहिम लव जिहाद के खिलाफ. मगरिबी यूपी में संघ के कारकुनों ने लव जिहाद के खिलाफ हमला बोल दिया है |

लव जिहाद के एहतिजाज के बहाने आरएसएस मगरिबी यूपी में अपने पैर पसारने की फिराक में है. संघ का जोर दलित और पिछड़ी जाति के लोगों को जोड़ने की है. रक्षा सूत्र तो बस एक बहाना है. इन्हीं जाति की लड़कियों से मुस्लिम लड़कों से रिश्तों के ज़्यादतर मामले सामने आ रहे है |

संघ से जुडी संस्कार भारती की ख्वातीन को भी लव जिहाद की मुखालिफत के काम में लगाया जाएगा. इस खुसूसी अभियान का ब्लू प्रिंट अभी तैयार हो रहा है. यूपी के सहारनपुर में दंगे के ठीक बाद लव जिहाद के खिलाफ कुछ नौजवानों ने एक ब्रिगेड बना लिया है. इन्हे मार्शल आर्ट की ट्रेनिंग भी दी जा रही है. इस ब्रिगेड ने हिन्दू लडकियां क्या करें और क्या ना करें इसके लिए भी नियम बनाये है |

मगरिबी यूपी के शहरों में ही नहीं, बल्कि देहात में भी लव जिहाद के खिलाफ मोर्चा बनने लगे है. मेरठ के खरखौंदा में भी ऐसे लोगों ने हेल्प लाईन भी शुरू कर दी है. इसी गांव की एक लड़की ने गुजश्ता महीने रेप और मज़हब तब्दील का इल्ज़ाम लगायी थी |

TOPPOPULARRECENT