Saturday , October 21 2017
Home / Bihar News / लालू और मोदी पर एफ़आईआर, सुशील मोदी ने की अब स्कूटी देने की ऐलान

लालू और मोदी पर एफ़आईआर, सुशील मोदी ने की अब स्कूटी देने की ऐलान

पटना : राजद सरबराह लालू प्रसाद और भाजपा लीडर सुशील कुमार मोदी पर ज़ाब्ता एखलाक कानून के खिलाफवर्जी के मामले में एफआइआर दर्ज की गयी है। लालू प्रसाद पर जहां बेटे तेजस्वी के एसेम्बली हल्के में मुनक्कीद इंतिखाबी इजलास में जातीय एहसास को उकसाने का इल्ज़ाम लगाया गया है, वहीं सुशील कुमार मोदी पर भभुआ की इजलास में वोट के लिए लालच देने का इल्ज़ाम लगाया गया है़।

एलेक्शन कमीशन की हिदायत पर लालू प्रसाद के खिलाफ राघोपुर के सीओ ने हाजीपुर के गंगा ब्रिज थाने में मामला दर्ज कराया है। इसमें लालू प्रसाद पर इतवार को राघोपुर एसेम्बली हल्के के तेरसिया में मुनक्कीद इंतिखाबी इजलास को खिताब करते हुए एक खुसुसि ज़ात को मुत्तहिद होने का ऐलान करने का इल्ज़ाम लगाया गया है़। उन पर तक़रीर में अगड़े और पिछड़े के नाम पर उकसाने का भी इल्ज़ाम लगा है। एलेक्शन कमीशन की हिदायत पर वैशाली के डीएम ने पूरे मामले की जांच की, जिसमें उन्होंने इसे ज़ाब्ता एखलाक कानून का खिलाफवर्जी माना है।

मंगल को यह जानकारी एलेक्शन महकमा के तर्जुमान आर लक्ष्मणन ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में दी। उन्होंने कहा कि तेरसिया की इजलास में लालू प्रसाद की तरफ से दिये गये तक़रीर में ज़ाब्ता एखलाक कानून का खिलाफवर्जी हुआ है, इसलिए उनके खिलाफ एफआइआर दर्ज करायी गयी है़। लक्ष्मणन ने बताया कि रालोसपा के क़ौमी सदर और मरकज़ी रियासती वज़ीर उपेंद्र कुशवाहा पर नोट और वोट मांगने के मामले की जांच की गयी़ उन्होंने कहा कि कुशवाहा ने वोट और पार्टी के लिए चंदा मांगा था़।

साबिक़ नायब वजीरे आला सुशील कुमार मोदी पीर को भाजपा उम्मीदवार आनंद भूषण पांडेय के नॉमिनेशन में भभुआ पहुंचे थे। नॉमिनेशन के पहले उन्होंने वहां जगजीवन स्टेडियम में इजलास को खिताब किया था। इल्ज़ाम है कि उन्होंने अपने तक़रीर के दौरान वोट के लिए लालच दिया था। इस सिलसिले में भभुआ में उन पर दर्ज एफआइआर के मुताबिक मोदी ने अपने तक़रीर में कहा था कि इंतिख़ाब जीतने पर दलित और महादलित की बस्तियों में कलर टीवी दी जायेगी, जिससे गरीब बस्ती के लोग नरेंद्र मोदी का तक़रीर सुन सकेंगे़। भाजपा की हुकूमत बनने पर 50 हजार मैट्रिक और इंटर के मेघावी तालिबे इल्म को लैपटॉप देंगे। गरीब को धोती और साड़ी खरीदने के लिए पैसा दिया जायेगा। एफआइआर में कहा गया है कि 28 सितंबर तक भाजपा ने कोई ऐलान खत जारी नहीं किया है़, जिससे कि यह पता चल सकेंगे कि भाजपा ने अपने ऐलान में क्या समुलियत किया है। एलेक्शन महकमा के तर्जुमान आर लक्ष्मणन ने कहा कि ज़ाब्ता एखलाक कानून के खिलाफवर्जी के लिए मोदी पर एफआआर दर्ज करायी गयी है़।

TOPPOPULARRECENT