Tuesday , October 17 2017
Home / Uttar Pradesh / लालू बाहर होते, तो पटना में मोदी की नहीं होती इंट्री

लालू बाहर होते, तो पटना में मोदी की नहीं होती इंट्री

एमपी शरीक राजद के झारखंड इंचार्ज रामकृपाल यादव ने कहा कि मुल्क में एक बार फिर फिरकारस्त ताक़तें फन उठा रही हैं। भाजपा ने एक ऐसे सख्स को वज़ीरे आजम के तौर में प्रोजेक्ट किया है, जिसे मुल्क की सेकुलरिज़्म को खतरा है।

एमपी शरीक राजद के झारखंड इंचार्ज रामकृपाल यादव ने कहा कि मुल्क में एक बार फिर फिरकारस्त ताक़तें फन उठा रही हैं। भाजपा ने एक ऐसे सख्स को वज़ीरे आजम के तौर में प्रोजेक्ट किया है, जिसे मुल्क की सेकुलरिज़्म को खतरा है।

1992 में फिरका वराना हम अहंगी को बिगाड़ने के लिए रथ निकाला गया था। लालकृष्ण आडवाणी के रथ को राजद सरबराह लालू प्रसाद यादव ने पटना में रोकने का काम किया था। लेकिन आज उसी रियासत में नरेंद्र मोदी की सभा हो रही है। पार्टी सरबराह लालू यादव अगर जेल में नहीं होते, तो आज मोदी की पटना में इंट्री भी नहीं मिलती। झारखंड इंचार्ज मिस्टर यादव इतवार को शिवाजी मैदान में मुनक्कीद राजद के डिवीज़नल कारकुन कोन्फ्रेंस में बोल रहे थे। सदारत पार्टी के रियासती सदर गिरिनाथ सिंह ने की।

TOPPOPULARRECENT