Tuesday , September 26 2017
Home / Bihar News / लालू मेरे गले पड़ गये तो मैं क्या करूं : केजरीवाल

लालू मेरे गले पड़ गये तो मैं क्या करूं : केजरीवाल

पटना : पटना में नीतीश के हलफबरदारी में राजद सरबराह लालू प्रसाद से गले मिलने के चलते सोशल मीडिया में तनकीद झेल रहे दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने सफाई दी है। दिल्ली में आम आदमी पार्टी की क़ौमी वर्किंग कमेटी की बैठक में केजरीवाल ने कहा कि लालू ने मेरा हाथ पकड़ कर खींच लिया और गले लगा लिया। केजरीवाल ने कहा , ‘नीतीश जी ने अच्छा काम किया था, जिसके चलते आवाम ने उन्हें फिर चुना। हमने भाजपा के खिलाफ काम किया और नीतीश का हिमायत किया। हलफबरदारी में लालू जी मिले तो उन्होंने मेरा हाथ पकड़ा और खींच कर गले लगा लिया, फिर अवाम की तरफ रुख करके हाथ ऊपर उठा दिया। मुझे प्रोजेक्ट किया जा रहा है। जो कि बिल्कुल गलत है। ‘

केजरीवाल ने कहा कि हमने किसी भी तरह का इत्तिहाद नहीं किया है। हम बदउनवान के खिलाफ लड़ रहे हैं और हमेशा लड़ेंगे। हम वंशवाद की सियासत के खिलाफ हैं। उन्होंने कहा- ‘लालू प्रसाद के दो बेटे वज़ीर बने हैं, हम इसका भी मुखालिफत करते हैं। लोग सवाल पूछ रहे हैं, मुझे इस बात की खुशी है। लेकिन, सवाल इसलिए पूछे जा रहे हैं कि हम बदलाव की सियासत कर रहे हैं और अलग तरह सोचते हैं.’ उन्होंने कहा कि जब दूसरे लीडर लालू प्रसाद से गले मिलते हैं तो कोई सवाल क्यों नहीं उठाता।

इधर केजरी के खिलाफ भाजपा ने लगाया पोस्टर

बिहार में महागंठबंधन हुकूमत के हलफबरदारी में दिल्ली के वजीरे आला अरविंद केजरीवाल की मौजूदगी को लेकर पोस्टर वार शुरू हो गया है। दिल्ली भाजपा ने केजरीवाल पर निशाना साधते हुए दारुल हुकूमत में कई जगह पोस्टर लगाये हैं। सीएम केजरीवाल को निशाना बनाते हुए पोस्टर में लिखा गया है- ‘अन्ना कल की बात है, अब लालू जी का साथ है। ‘ इस पोस्टर में केजरीवाल की तस्वीर भी लगायी गयी है। रियासती भाजपा ने अलग-अलग जगहों पर ऐसे पोस्टर लगवाये हैं। इसमें एक तस्वीर में केजरीवाल और लालू को गले मिलते हुए दिखाया गया है, साथ ही दूसरी तस्वीर में केजरीवाल और लालू को हाथ मिलाते हुए दिखाया गया है।

TOPPOPULARRECENT