Monday , October 23 2017
Home / Islami Duniya / लाल मस्जिद केसः गैर ज़मानती वारेंट को मुशर्रफ़ का अदालत में चैलेंज

लाल मस्जिद केसः गैर ज़मानती वारेंट को मुशर्रफ़ का अदालत में चैलेंज

पाकिस्तान के साबिक़ सदर परवेज़ मुशर्रफ़ ने उन के ख़िलाफ़ यहां एक अदालत की जानिब से 2007 के लाल मस्जिद मुक़द्दमा में जारी कर्दा नाक़ाबिले ज़मानत वारेंट को चैलेंज किया है। अदालत ने मुशर्रफ़ की इस केस में मुसलसल अदालत से गैर हाज़िरी पर वारेंट

पाकिस्तान के साबिक़ सदर परवेज़ मुशर्रफ़ ने उन के ख़िलाफ़ यहां एक अदालत की जानिब से 2007 के लाल मस्जिद मुक़द्दमा में जारी कर्दा नाक़ाबिले ज़मानत वारेंट को चैलेंज किया है। अदालत ने मुशर्रफ़ की इस केस में मुसलसल अदालत से गैर हाज़िरी पर वारेंट जारी किया है।

मुशर्रफ़ का कहना है कि जिस दिन वारेंट जारी किया गया उन्हें तिब्बी मुआइना के लिए एक मेडिकल बोर्ड के रूबरू हाज़िर होना था। 71 साला साबिक़ फ़ौजी हुक्मरान ने इस्लामाबाद ज़िला ऐंड सेशन्स अदालत में कल दरख़ास्त दायर की है जिस में इस्तिदा की गई है कि उन के ख़िलाफ़ जुमेरात को जारी कर्दा वारेंट को कलअदम क़रार दिया जाए।

ये मुक़द्दमा लाल मस्जिद के इमाम अबदुर्रशीद ग़ाज़ी के क़त्ल के सिलसिला में दायर किया गया था। मुशर्रफ़ मुसलसल अदालत में हाज़िरी से गुरेज़ कर रहे थे जिस के बाद उन के ख़िलाफ़ वारेंट जारी कर दिया गया। वो ऐसे पहले फ़ौजी सरब्राह हैं जिन के ख़िलाफ़ ऐसे मुक़द्दमात दर्ज किए गए हैं। उन पर जजेस को हिरासत में रखने का मुक़द्दमा दर्ज है।

TOPPOPULARRECENT