Friday , October 20 2017
Home / Khaas Khabar / लाहौर की जेल में एक और ‘सरबजीत सिंह’ की मौत

लाहौर की जेल में एक और ‘सरबजीत सिंह’ की मौत

नई दिल्ली, 28 जून: (एजेंसी) पाकिस्तान में एक और हिंदुस्तानी कैदी की मुश्तबा हालत में मौत हुई है। ज़राए के मुताबिक मुमताज नामी कैदी को 8 जून को लाहौर वाकेए जिन्ना अस्पताल में शरीक कराया गया था।

नई दिल्ली, 28 जून: (एजेंसी) पाकिस्तान में एक और हिंदुस्तानी कैदी की मुश्तबा हालत में मौत हुई है। ज़राए के मुताबिक मुमताज नामी कैदी को 8 जून को लाहौर वाकेए जिन्ना अस्पताल में शरीक कराया गया था।

ज़ाकिर के पेट में दर्द होने की बात कही गई थी। आफीशियल ज़राए ने जुमेरात की देर शाम जाकिर के हार्ट अटैक से मौत होने की इत्तेला दी। जाकिर अमृतसर का साकिन है।

यह पिछले कुछ महीनों में कोट लखपत जेल में बंद तीसरे हिंदुस्तानी कैदी की मौत है। जाकिर की मौत हुई है या कत्ल किया गया है इसकी सही इत्तेला पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही मिल सकेगी।

इससे पहले 15 जनवरी को कोट लखपत जेल में हिंदुस्तानी कैदी चमेल सिंह की जेल के मुलाज़्मीन की तरफ से की गई पिटाई में मौत हो गई थी।

26 अप्रैल को सरबजीत सिंह की इसी जेल में कुछ कैदियों ने जमकर पिटाई की थी, जिसके बाद उन्हें जिन्ना अस्पताल में शरीक कराया गया।

1 मई को अस्पताल के डॉक्टरों ने सरबजीत के ब्रेन डेड का ऐलान कर दिया था।

हिंदुस्तानी शहरी जाकिर को मुबय्यना तौर पर सरहद पार करने पर 3 अगस्त 2011 को गिरफ्तार किया गया था।

कोट लखपत जेल में कैदियों के हमले का शिकार हुए सरबजीत की बहन दलबीर कौर ने अमर उजाला से बातचीत में कहा कि हुकूमत पाकिस्तान सरकार की तरफ से हिंदुस्तानी कैदियों की सेक्युरिटी के लिए मुनासिब कदम न उठाए जाने के सबब ऐसे वाकियात बार-बार हो रहे हैं।

उन्होंने कहा कि पाकिस्तानी आफीसर हर मरतबा हिंदुस्तानी कैदियों पर हमले या उनकी मौत की खबर की तस्दीक रात 7-8 बजे के बीच जानबूझकर करते हैं जिससे हिंदुस्तानी आफीसर दूसरे दिन ही कोई कदम उठा सकें। – दलबीर कौर, सरबजीत की बहन

—–बशुक्रिया: अमर उजाला

TOPPOPULARRECENT