Tuesday , October 17 2017
Home / Islami Duniya / लीबिया में अमेरीकी सफ़ीर (राजदूत) के क़त्ल का बदला 11 हलाक

लीबिया में अमेरीकी सफ़ीर (राजदूत) के क़त्ल का बदला 11 हलाक

बिनग़ाज़ी, २३ सितंबर: (ए एफ पी )लीबिया के हुक्काम ने बेनग़ाज़ी Benghazi में मुसल्लह (सशस्त्र) जिहादियों ( paramilitary group) के ठिकानों और हेडक्वार्टर्स पर अपना कंट्रोल दुबारा हासिल कर लिया है । एजेंसीज़ की इत्तिला में बताया गया है कि अमेरीकी सफ़ीर ( राज

बिनग़ाज़ी, २३ सितंबर: (ए एफ पी )लीबिया के हुक्काम ने बेनग़ाज़ी Benghazi में मुसल्लह (सशस्त्र) जिहादियों ( paramilitary group) के ठिकानों और हेडक्वार्टर्स पर अपना कंट्रोल दुबारा हासिल कर लिया है । एजेंसीज़ की इत्तिला में बताया गया है कि अमेरीकी सफ़ीर ( राजदूत) के क़त्ल का बदला लेते हुए अमेरीकी हामियों ने जिहादियों के साथ घसमान लड़ाई की ।

जिस में 11 हलाक और 70 से ज़ाइद ज़ख़मी हो गए । इन में सिक्योरिटी फ़ोर्स के 6 अरकान ( सदस्य) भी शामिल हैं । मुक़ामी क़ौंसलख़ाना में दो हफ़्ता क़बल जिहादियों के हमले से सफ़ीर ( राजदूत) हलाक हुआ था । इस वाक़िया के ख़िलाफ़ मुहिम ( अभियान) चलाते हुए मुक़ामी ( स्थानीय) हुक्काम ने जिहादियों को हलाक करने की मुहिम ( अभियान) शुरू की ।

बन ग़ाज़ी मेडीकल सेंटर के एक मेडीकल ओहदेदार ने बताया कि 6 नाशों / लाशों के जिस्म पर पाए जाने वाले ज़ख़मों के निशानात से वाज़िह ( स्पष्ट) होता है कि उन्हें गोली मारी गई है । उन के सर में गोलियों के निशान थे । जिहादियों के ख़िलाफ़ बन ग़ाज़ी के कम अज़ कम 30 हज़ार अफ़राद ने रैली निकाली ।

इन मुज़ाहिरीन ( प्रदर्शनकारियों) का मुतालिबा था कि मुसल्लह ( सशस्त्र) गिरोहों का ख़ातमा किया जाय और क़ानून की हुक्मरानी को बहाल किया जाय ।

TOPPOPULARRECENT