Monday , May 29 2017
Home / Sports / ‘लेडी लक’ से चमकी युवराज की किस्मत, वनडे टीम में वापसी,

‘लेडी लक’ से चमकी युवराज की किस्मत, वनडे टीम में वापसी,

नई दिल्ली: क्रिकेटर युवराज सिंह ने दिसंबर के शुरू में हेजल कीच के साथ विवाह रचाया था और विवाह के एक महीने के बाद ही उन्हें इंग्लैंड के खिलाफ 15 जनवरी से शुरू हो रही वनडे तथा टी20 सीरीज के लिए टीम इंडिया से निमंत्रण आ गया. 35 वर्षीय युवराज की वापसी कुछ चौंकाने वाली रही लेकिन सिलेक्टरों ने 2016-17 रणजी सत्र में उनके प्रदर्शन पर भरोसा जताया.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

हिंदुस्तान के अनुसार, चीफ सिलेक्टर एमएसके प्रसाद ने कहा कि युवराज जिस तरह घरेलू क्रिकेट में खेले हमें उसकी सराहना करनी चाहिए। हम यही सोच रहे थे कि वह लंबी पारियां नहीं खेल पा रहे हैं लेकिन उन्होंने एक दोहरा शतक बनाया और लाहली में तेज गेंदबाजों की स्वर्ग कहे जाने वाली पिच पर 177 रन की बेहतरीन पारी खेली. बता दें कि 2011 के विश्वकप में भारत की खिताबी जीत में मैन ऑफ द टूर्नामेंट रहे युवराज ने अपना आखिरी वनडे 11 दिसंबर 2013 को खेला था.

वो कहते हैं ना ‘लेडी लक’ किसी का भी भाग्य बदल सकता है और यह बात इंडियन टीम के धांसू बल्लेबाज युवराज सिंह पर सटीक बैठती है. युवी लंबे समय से टीम से बाहर थे और टीम में आने के लिए जी-तोड़ मेहनत कर रहे थे. लेकिन अभी हाल ही में उनकी शादी हुई है और उनको तीन साल बाद शुक्रवार को टीम इंडिया का टिकट मिल गया.

उल्लेखनीय है कि युवराज ने इस रणजी सत्र में लाहली में मध्य प्रदेश के खिलाफ 177 और 76, दिल्ली में बडौदा के खिलाफ 260 और हैदराबाद में उत्तर प्रदेश के खिलाफ 85 रन जैसी पारियां खेली थीं. उन्होंने इस सत्र में पंजाब के लिए पांच मैचों में 84.00 के औसत से 672 रन बनाए. इस फार्मेट में उन्होंने पिछले 19 मैचों में 18.53 के औसत से रन बनाए थे. उन्होंने अपना आखिरी ट्वंटी 20 मैच 27 मार्च 2016 को खेला था. युवराज का यह ट्वंटी 20 मैच विश्व कप का मैच था. बता दें कि युवराज ने 293 वनडे में 8329 रन और 55 ट्वंटी 20 में 1134 रन बनाए हैं.

Top Stories

TOPPOPULARRECENT